कोट्स New

ऑडियो

मंच

पढ़ें

प्रतियोगिता


लिखें

साइन इन
Wohoo!,
Dear user,

नोट : कन्टेन्ट क्रमांक चुने हुए भाषा के तहत फिल्टर में प्रदर्शित होंगे : hindi

मैं उस सोलह साल की नंगी लड़की को दुबारा नंगा छोड़कर घर की ओर आता रहा। रात को जब read more

12     41.1K    78    1

कभी सोचती कि, “वह कहीं माता - पिता के प्रेम में फरेब और कपट की प्रतिछाया तो नहीं ? read more

20     12.8K    135    2

. "हमें नये जीवन का आशीर्वाद दीजिये पापा read more

14     8.0K    94    3

मगर ये भी तय है, मुझमें वतन में हर हाल में ही, तुम देश read more

1     1.8K    74    4

भैया ! बहुत हुआ, अब इसे छोड़ दो ! अपनी करनी का फल भोगे जाकर, मालती दरवाजे पर हाथ जोड़े read more

17     10.3K    86    5

सूरज की लालिमा को रंग बदलते देख प्रकृति के चितेरे की कूची के जादू से अचंभित रह जाना। read more

5     2.0K    55    6

सबके विरोध को दरकिनार कर अपने निर्णय पर अडिग पति को कन्धा दे चल दी मंगला, पति का read more

2     3.8K    104    7

तर्क नहीं है जिन बातों पर उन पर बोलो जय श्री read more

1     1.6K    73    8

एक फौज़ी की पत्नी विधवा नहीं होती वो तो सदा सुहागन रहती है। उस से भाग्यशाली औरत कौन read more

2     3.8K    80    9

एक आदमी अपनी दृढ़ प्रतिज्ञता के चलते अपने गांव में शिक्षा को बढ़ावा दे कर और स्वरोजगार read more

10     6.1K    277    10

"अलविदा।" इस जवाब से उसने मुझको, झल्ली से मुक्त कर read more

6     3.3K    88    11

मगर खुद को और अपने बच्चे को फेल नहीं होने read more

5     2.1K    74    12

एकालाप
© Jiya Prasad

Inspirational Fantasy +1

एक औरत का read more

9     24.3K    75    13

उस मालिक को याद तक नहीं कि उसने अपनी विदेशी पत्नी का नाम कब रख दिया read more

9     1.5K    53    14

पुत्र प्रेम में मोहाँध धृतराष्ट्र ने क्यूँ घर की इज्जत को नीलाम होने read more

3     1.1K    59    15

वह अब कांटेक्ट लिस्ट में मौसी के बेटे का फोन नम्बर सर्च करने read more

7     2.3K    77    16

बेटों के सिर से माँ के अंतिम संस्कार के खर्च का बोझ उतर चुका था। उन्होंने इसी स्त्री read more

7     4.3K    160    17

लेकिन एक दिन ऐसा तूफान आया कि सब कुछ उजड़ गया। अचानक एन. डी. ए. पूने से फोन आया कि, read more

7     3.2K    58    18

हर किसी की बेटी को अपनी बेटी read more

6     921    56    19

'भोला के लिये गुरूजी उसके भगवान थे और उनकी हर आज्ञा पत्थर की लकीर थी | वह एक read more

4     17.7K    646    20

बातों बातों में उन्होने गीता को समझाया कि मौके बार बार दस्तक नहीं देते । हम read more

10     3.6K    481    21

मैं आपसे बहुत प्यार करती हूँ।” – कहते हुए उसने पापा के गालों को चूम read more

8     2.9K    117    22

बताया कि कैसे उसे सुलोचना से पहली नजर में ही प्यार हो गया था, लेकिन सुलोचना अपनी मन read more

3     2.8K    69    23

मैं बहुत अमीर बन जाऊंगा। मैं अपने लिए एक विशाल महल का निर्माण करूंगा और एक सुंदर read more

2     1.3K    67    24

हाँ सरकार, विश्वास मानिए, वे मर गई हैं। साँस बंद है, आँखें read more

16     2.7K    84    25

यह एक काल्पनिक कहानी है इसका किसी जाती विशेष के साथ कोई सम्बन्ध नहीं है किसी भी read more

18     3.3K    72    26

ऐसे चुप रहने से काम नही चलेगा नीतू, कल इसको जहां से लाई है वही रख आना चुप read more

10     1.1K    133    27

वो तो चले गए हैं, बस रह गयी है उनकी वो जवान read more

3     1.2K    116    28

ऐसे ही पन्ने भर रही हूँ, क्या करूँ कुछ कर भी नही पा रही हूँ read more

4     887    99    29

रोली बिटिया हमारी बहुत समझदार है। और जैसा मैं बोलूँगा वो सुनेगी।“ “पापा मेरा छोटा read more

4     627    70    30