कोट्स New

ऑडियो

मंच

पढ़ें

प्रतियोगिता


लिखें

साइन इन
Wohoo!,
Dear user,

नोट : कन्टेन्ट क्रमांक चुने हुए जोनर के तहत फिल्टर में प्रदर्शित होंगे : drama

ये गाँव में बिताई छुट्टियाँ होती कभी ननिहाल में बीतती तो वो कुछ और रंग की होतीं शहर read more

4     615    19    3013

रघुवर पर शिक्षक के इस व्यंग्य का गहरा प्रभाव पड़ा। चार साल बाद read more

1     248    8    2947

सपने
© Sneh Goswami

Children Stories Drama +1

बच्चों को उससे प्रेरणा लेने, मेहनत करने की सलाह दी थी और एक दिन अचानक स्कूल से फोन read more

3     409    18    734

राजेश दुखी होकर वहाँ से चला गया। उसने आसमां की ओर देखा। उसने पाया कि सूरज read more

1     111    4    2964

दोस्त
© Alok Mishra

Children Stories Drama

बाइक की रफ्तार न जाने क्यों बहुत कम हो चुकी थी। फिर सोचने लगा था कि मिलकर क्या read more

9     697    8    338

मैं एक कॉलेज में पढ़ती हूँ पर कभी सोचा नहीं था कि कोई इतना करीब आ सकता read more

2     213    3    1161

टाइम सीरम
© Saket Shubham

Children Stories Drama +1

पाँच सालों में उस वक़्त के मानव जीवन को उन्होंने अनेक उपकरण देकर उस वक़्त read more

4     1.1K    18    540

तभी उसे एक जानी-पहचानी आवाज सुनाई दी। यह तो डोरेमोन की आवाज है। वह आँख भींच कर जोर read more

2     309    9    1878

एक दिन अचानक सेठानी के बच्चे को पोलियो ने जकड़ लिया, अब वो पैर से ठीक से नहीं चल पा read more

3     230    1    1169

कंजक
© Aprajita 'Ajitesh' Jaggi

Children Stories Drama +1

गरीब बच्चों के माँ-बाप को बच्चों की कमाई का लालची समझने की मध्यमवर्गीय मानसिकता सिर read more

2     186    8    1135

फ्योदोर फ्योदोरोविच कल्पाकोव पानी के नीचे गया और डाइवर्स ऊपर से टेलिफोन पर उससे read more

2     191    4    1484

गुड़िया को आपरेशन थिएटर ले जाया गया और आपरेशन शुरू कर read more

1     547    15    5374

दोस्त
© Sunita Mishra

Children Stories Drama +1

पिताजी ने अपना ट्रांसफर दूसरे शहर ले लिया। वो जानते थे की मैं बिना अपने दोस्तो के read more

5     192    2    1905

लेखिका : ऐना स्युअल अनुवाद : आ. चारुमति read more

4     195    3    2260

लेखक: विताली बिआन्का अनुवाद: आ. चारुमति read more

4     162    38    887

अब तो तू खुद ही हमारे लपेटे में आ गया ना देख अब सरकार तेरा क्या हाल read more

2     1    1    3221

कोई व्यक्ति इतना स्वार्थी कैसे हो सकता है ? क्या उन्होंने सचमुच इतना हिसाब - किताब read more

9     27.1K    260    75

मैं आपसे बहुत प्यार करती हूँ।” – कहते हुए उसने पापा के गालों को चूम read more

8     2.0K    114    11

हम अपनी धुन में खोए थे कि, सूरजमुखी ने हमें झकझोरा …. अरे कला, कहां खोई है, जा तुझे read more

14     1.1K    74    91

कभी सोचती कि, “वह कहीं माता - पिता के प्रेम में फरेब और कपट की प्रतिछाया तो नहीं ? read more

20     2.2K    99    1

कॉलेज में सभी को आगाह किया गया कि जो भी कॉलेज से बाहर जायेगा वो सिक्योरिटी को बताएगा read more

17     15.6K    46    322

लेखक : निकोलाय गोगल अनुवाद : आ. चारुमति read more

6     732    52    120

. "हमें नये जीवन का आशीर्वाद दीजिये पापा read more

14     1.2K    82    2

आरती ! " मेरे पति ने शून्य में आँखे गड़ाए हुए मुझे हल्की मधुर आवाज़ में पुकारा read more

10     135    30    129

एकालाप
© Jiya Prasad

Inspirational Fantasy +1

एक औरत का read more

9     23.0K    69    7

क्या क्या हुआ जब अम्मा गिरी खड्डे मैं....पर अम्मा गिरी थी या उनको धकेला गया था..या read more

8     15.2K    77    132

भैया ! बहुत हुआ, अब इसे छोड़ दो ! अपनी करनी का फल भोगे जाकर, मालती दरवाजे पर हाथ जोड़े read more

17     1.5K    76    4

वरुण ने उसके कंधे पर हाथ रखा तो वीथी ने उसके कंधे पर सर रख दिया. सामने हरेभरे read more

11     476    53    164

एक आदमी अपनी दृढ़ प्रतिज्ञता के चलते अपने गांव में शिक्षा को बढ़ावा दे कर और स्वरोजगार read more

10     2.9K    267    6

जब एक बेमेल विवाह हो तो उसे पहले ही रोकें बढ़ावा न दें क्योंकि इससे आप दो ज़िंदगी read more

3     349    48    465