Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!
Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!

Vipin Baghel

Fantasy Inspirational

4.7  

Vipin Baghel

Fantasy Inspirational

बगावत की बयार

बगावत की बयार

1 min
373


शांति के लिए शांति पाठ  तो ,

युद्ध के लिए भी शंखनाद होना चाहिए |

राष्ट्र के लिए भी एक प्राण और ,

प्राण में भी राष्ट्रप्रेम होना चाहिए |


जन्म के लिए पालना तो  ,

मृत्यु के लिए भी एक शैया चाहिए |

अमरत्व लिए अमृत इठलाता तो ,

विष को भी स्वयं पर नाज होना चाहिए |


रात के लिए एक चाँद तो ,

दिन में भी एक रात होनी चाहिए |

अगर सूर्य भी तपन न रोके तो ,

अवरोध बन ग्रहण लगना चाहिए | 


राह में अवरोध बने शूल तो ,

शूल को भी फूल बनना चाहिए |

अगर शूल फिर भी न समझे तो ,

अब शूल भी विदीर्ण होना चाहिए |


काल में काल से भयभीत तो ,

काल का भी एक काल होना चाहिए |

लाँघ अगर दे मर्यादा काल  तो ,

अब महाकाल बनना चाहिए |  


सागर को भी गर्त का संज्ञान लेना चाहिए,  

कष्ट को भी कष्ट का एहसास होना चाहिए  |

ढाल  ही  क्यों  बार  बार  वार  सहे  ,

अब  ढाल  में  भी  प्रहार को  धार देनी चाहिए  |


शून्य ही क्यों सदा जुड़कर अस्तित्व मिटाये  ,

अब उसे भी टकराकर अस्तित्व  मिटाना चाहिए  |

सब अच्छा है तो इतनी बेचैनी क्यों,  

अब सियासत में भी खुद्दारी पनपनी चाहिए  |


कब तक यूँ ही कठपुतली बन नाचोगे  ,

नाचना है तो रूद्र का तांडव होना चाहिए  |

तुम कब तक यूँ ही प्रेम गीत गुनगुनाओगे  ,

अब मुख से नाद भी ब्रह्मनाद निकलना चाहिए  |


बोलो! कब तक आहिस्ता से बहकर आत्ममुग्ध रहोगे   ,

अब तो तुम्हे  आंधी और तूफानों से बात करनी चाहिए  |

यूँ कब तक सहोगे  अन्याय  तुम,   

अब संसार में बगावत की बयार बहनी चाहिए | 


Rate this content
Log in

Similar hindi poem from Fantasy