रोहित वर्मा

Romance Action Others classics thriller inspirational


4.0  

रोहित वर्मा

Romance Action Others classics thriller inspirational


पूजा की दोस्ती

पूजा की दोस्ती

1 min 97 1 min 97

पूजा जो अपनी ज़िन्दगी मै काफी खुश उसकी फेसबुक के जरिए एक लडके से मुलाकात हुई और फिर वही से पूजा और राकेश की बातचीत चालू हुई रोज दिन पूजा राकेश के साथ लगी रहती एक साल गुजर गया पूजा ने उससे बात करना बंद नहीं की 

 अचानक एक दिन राकेश का कोई रिप्लाइ नहीं आया पूजा हतास होने लगी राकेश बात को नहीं कर  रहा और देखा कि उसको ब्लॉक कर दिया काफी दिन सोचने लगी कि अचानक से राकेश ने बात करना बंद को कर दी। दिन भर बस राकेश की सोच में डूबी रहती। अपना हाल बताए तो किसको बताए पूजा के दोस्तो ने बोला - चल छोड़ और मिल जाएंगे।

न कोई फोटो न कोई संपर्क बस पूजा की डूबी सोच।

एक दिन पूजा को फेसबुक पर मैसेज आता मै मिलना चाहता हूं वह कोई नहीं राकेश था पूजा ने झट से हांँ कर दी अगली सुबह पूजा मिलने जाती और वह देखती की एक लड़का गुलाब का फूल लेकर खडा है उस लड़के की व्यक्तित्व देख कर हैरान हो जाती। वहाँ उनकी बातचीत शुरू होती घर वालो से मिलना जुलना होता और राजी खुशी शादी हो जाती।

शिक्षा :- अगर वक्त साथ दे तो आपको अपना मिलना तह है।  


Rate this content
Log in

More hindi story from रोहित वर्मा

Similar hindi story from Romance