Participate in the 3rd Season of STORYMIRROR SCHOOLS WRITING COMPETITION - the BIGGEST Writing Competition in India for School Students & Teachers and win a 2N/3D holiday trip from Club Mahindra
Participate in the 3rd Season of STORYMIRROR SCHOOLS WRITING COMPETITION - the BIGGEST Writing Competition in India for School Students & Teachers and win a 2N/3D holiday trip from Club Mahindra

Mukesh Bissa

Classics


4  

Mukesh Bissa

Classics


तरीका जिंदगी का

तरीका जिंदगी का

1 min 203 1 min 203

जिदंगी अपने तरीक़े से बिताइए

पर किसी पे इतना भरोसा न कीजिये।


गले सबको ऐसे न लगाइये

सिर्फ हमदम को करीब बिठाइए।


कुछ लफ्जों का समझो मतलब भी

उन्हे अपने नग्मों में न आजमाइए।


इन परिंदों को इतना मत देखो

कभी आसमां पे नजर दौड़ाइये।


दर्द भरा पड़ा है सफर ए जिंदगी में

थोड़ी सी खुशी को महसूस कीजिये।


रिश्तों को इतनी तोहमत ठीक नहीं

इन्हें यकीन ए तराजू में भी तोलिये।


Rate this content
Log in

More hindi poem from Mukesh Bissa

Similar hindi poem from Classics