कोट्स New

ऑडियो

मंच

पढ़ें

प्रतियोगिता


लिखें

साइन इन
Wohoo!,
Dear user,

नोट : कन्टेन्ट क्रमांक चुने हुए जोनर के तहत फिल्टर में प्रदर्शित होंगे : romance

मैं तो अब भी वही हूँ कशमकश भरे कदम रखते हुए, हाथों में मेघदूत read more

1     558    58    7

जरा बाँसुरी नेह राग की मुझे सुना और थोड़ी तू भी संग मुस्कुरा read more

1     1.1K    85    19

दो हृदय एक ही डोर जुड़े तन, प्राण एक बन जाए क्यों कहने को तो, एक बंधन ये मन read more

1     1.7K    51    22

'मैं खाने पीने का शौक़ीन, अदरक की तरह फैल गया, शरीर L से XXXL, और कमर का कमरा बन read more

1     14.6K    534    30

सिर्फ प्रेमिका या पत्नी से इजहार की मजबूरी क्यों परिवार के सदस्य, रिश्ते या read more

1     2.7K    253    31

मेरा वक्त नहीं कोई कटता उसके read more

1     894    50    47

कभी कभी तो बस आप अपनी, ही रक़ीब होती है ये read more

1     449    63    66

अब डर नहीं लगता, किसी के दूर जाने का, अब दिल नहीं करता, किसी से जुड़ जाने read more

3     14.0K    87    84

छोटी - सी है ज़िन्दगानी साथ तेरे है बितानी | तू जो है साथ मेरे हर कदम पा लेंगे read more

1     15.4K    125    89

फिर किसी मोड़ पर मिलने की आस लगाए बैठा है क्योंकि दिल तो बच्चा फिर भी read more

2     599    64    90

पांव ना टिके धरती पर और वो बस उड़ती रहे हवाओं में read more

1     351    52    98

मेरी कविता तुम से ही बनती मेरी और मेरी कविता की शान हो read more

1     221    54    103

ये एक तरफा इश्क़.. उस इज़हार की तरह है .. जिसे वो अठखेली समझ read more

1     598    41    106

हो जाती है पूर्ण तुम्हीं से, काव्य-कामिनी read more

1     291    40    112

मोहब्बत ये, हो जाए तो read more

1     15.3K    94    118

हिरनों जैसे वन-वन भटके लौट फिर बेबस अपनी ही कस्तूरी खोजें शायद प्यार यही read more

1     462    50    122

समझ नहीं पा रही मेरा आँचल छोटा है या तुम्हारे एहसान बड़े क्यूँ समेट नहीं read more

1     255    46    127

अमलतास सी वफा की छाँव ही छाँव बरसती read more

1     143    39    130

इत्मिनान इतना कि स्वप्न में थी मैं और तुम अभी चालीसवें में read more

1     152    27    133

यह कविता प्यार का इज़हार read more

1     14.1K    59    135

कोई फिर से प्यार के वही लम्हें जीना चाहता read more

2     13.7K    54    138

नादान
© Shyamm Jha

Fantasy Romance

हर बात में मेरा नाम लेना और हर बार बस यही कहना मुझे तुम से मोहब्बत नहीं सच मे तुम read more

1     14.8K    88    150

'कुछ टुकडो को मैने दफना दिया, कुछ तेरी राह देखते हुय पिगल गए।' प्यार में टूटे हुए read more

1     9.4K    136    160

अब शायद मौन हो गई हो रुह मेरी, पर तब भी, दिल में शायद धड़कनें बाकी read more

1     222    48    171

यह तुम्हारा ही नशा है, जिसने मुझे प्रेम में डुबोया read more

1     397    26    175

वो दर्द तुम तक किसी रोज़ पहुंचे यक़ीनन हर बार जो निकल आता है ख्वाहिश के read more

1     393    13    184

देखते ही देखते कहीं इन पलों का भी कारवाँ आगे न बढ़ read more

2     1.1K    51    186

गिनना चाहती हूँ तारों को मैं, चाँद पर बैठना चाहती हूँ, थोड़ी read more

1     283    24    190

संभलता कैसे, पहली बार जो मैंने; इश्क़ का बवंडर read more

1     274    46    199

कभी ख़्याल आए तो लौट कर आना कुछ ख़ास नहीं बदला है read more

1     303    35    205