Quotes New

ऑडियो

मंच

पढ़ें

प्रतियोगिता

भाषा


लिखें

साइन इन
Wohoo!,
Dear user,

नोट : कन्टेन्ट क्रमांक चुने हुए जोनर के तहत फिल्टर में प्रदर्शित होंगे : tragedy

रोज प्यार से तुम अपने, आँचल में मुझे छुपाती read more

1     327    21    90

अपने नन्हें बच्चों की लाशें सड़ते देखता हूँ, अश्वतथामा की याद में द्रोण सा चिल्ला read more

1     8    1    4381

नन्हे कोमल हाथों से बर्तन चमकाता है वो कारखानों में भारी बोझ उठाता है वो बड़े read more

1     157    0    2176

वो दर्द की रात थी... तेज बरसात read more

2     20.5K    8    168

इन्द्र देव इस बार कुछ, ज्यादा ही नाराज़ लग रहे हैं, मुसीबत शायद देवलोक में है, जमीन read more

1     15.1K    557    3

A rich, entertaining and candid memoir. And overall Obama's a fun person to sit alongside as she tells you her story.

ये माना कि हर तरफ पीने के पानी की कमी है लेकिन जीव पर अत्याचार, बारिश की बेरहमी read more

1     364    83    15

तिल वाला अंगूठा से मोबाइल में आर्टिकल लिख रही थी आजकल स्त्रियाँ सेफ नहीं read more

2     7.3K    83    347

मरहम को इंकार करता वो देश और ‘वसुधैव कुटुंबकम’ की ओर चली read more

1     13.3K    6    1699

सुन नहीं सकूँगी मैं टन - टन ज़िंदगी की ! मैं कौन read more

1     752    64    26

घर बनाये झोले ले जाते थे जहाँ वो चारदीवारी ढूंढ रहा read more

1     202    36    129

यह नज़ारा देख रही औरत की नन्ही बच्ची सबक ले रही है और मन ही मन तय कर रही है कभी read more

2     13.9K    1    1710

अब हम साथ है यही तुम्हारे पास है, तुम हो देश के रक्षक, दुश्मनों के भक्षक, ये देश read more

1     325    29    304

अब आख़री आँच से भस्मीभूत ही कर दो मेरा अस्तित्व कि तुम निजात पाओ मेरी read more

2     541    48    51

यह कविता समाज में किसान के साथ होते अन्याय को आवाझ देती है read more

2     14.2K    67    79

आपके पास तो हर चीज का जवाब होता है ना, एक बार ये तो बता दो कि, इन सबको कैसे read more

1     348    46    320

करवट बदलने पर भी जो सहम जाते थे चीखें मार -मार कर जो आवाज़ लगाते थे एक पल भी जो read more

2     721    97    36

इस भरी जवानी में ही, मुझे ओल्ड कर read more

1     260    48    176

दोनों के दिल, रक्षासूत्र और ताबीज़ सब राज़ी थे, पर उन्हें देने वाले द्वेष और द्रोह read more

1     13.6K    9    1046

ये कविता आतंकवाद से जहन्नुम बनती ज़िंदगी की read more

1     14.8K    57    81

जीवन का चक्रव्यूह तोड़ना सिखाया करते थे। हालात क्या थोड़े से बिगड़ गए, तुम फाँसी read more

1     7.5K    17    1798

मुट्ठी में कर लेगी दुनिया सात साल की छोटी read more

1     13.8K    14    1076

हर घटना का कारण है, जीवन में जो भी हो रहा है, उसको उसका काम करने दो, वो आपको देख रहा read more

2     14.4K    515    12

यह कविता महिलाओ के साथ समाज में होते अत्याचारो की कहानी read more

2     14.0K    55    83

वो अचरज मे पड़ जाते हैं शहरों की सड़कों read more

1     353    32    373

A rich, entertaining and candid memoir. And overall Obama's a fun person to sit alongside as she tells you her story.

छोड़ दिया था उस, बच्ची का हाथ आपने, जब वो थी अपनी माँ के कोख़ read more

2     19.9K    174    14

बीतेगी खुद पे तब न्याय करोगे, भरे बूँद से सागर है। फूटेगी जब ले डूबेगी मजबूत नहीं read more

2     7.0K    6    3108

प्रेरणा का स्रोत सैनिक, अमर पथ पर है read more

1     357    10    824

मौत औरों को डराती है, पर मांगू को बिल्कुल नहीं। क्योंकि शमशान ही उसकी कर्मभूमि read more

1     402    60    109

'कुछ टुकडो को मैने दफना दिया, कुछ तेरी राह देखते हुय पिगल गए।' प्यार में टूटे हुए read more

1     9.2K    132    96

फिर बिना शिक्षा के वो सब कुछ सीख जाता read more

2     358    44    116