Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!
Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!

Gulab Jain

Romance

4.8  

Gulab Jain

Romance

तेरी चंचल आँखें ...

तेरी चंचल आँखें ...

1 min
511


तेरी एक झलक जो मिल जाए |

जीवन की बगिया खिल जाए।


तेरी चंचल आँखों में देखा,

इक ज्वार प्यार का चढ़ता-सा,

जग की ख़ुशियाँ मिल जाए मुझे,

जो तीर नज़र का चल जाए।


तेरे लब हैं या कि पैमाने,

देखें जो, हों वो दीवाने,

जो अपना लो तुम मुझे प्रिये,

जीवन- कश्ती साहिल पाए।


शामें मेरी वीरान हुईं,

नींदें तुझ पे क़ुर्बान हुईं,

गर जीवन में तुम आ जाओ,

आंसू थम जाएं, दिल गाए।


Rate this content
Log in

Similar hindi poem from Romance