Read #1 book on Hinduism and enhance your understanding of ancient Indian history.
Read #1 book on Hinduism and enhance your understanding of ancient Indian history.

भावना कुकरेती

Abstract Romance Fantasy


4.5  

भावना कुकरेती

Abstract Romance Fantasy


वो और मैं - 8

वो और मैं - 8

1 min 229 1 min 229

वो- तुम्हारा मिज़ाज़ आज उखड़ा उखड़ा क्यों लग रहा ?

मैं- यार ..समझ नहीं आता, क्या इतनी आसान लगती हूँ।

वो- लगती तो हो..पर हो नहीं।

मैं- पर मैं लगना भी नहीं चाहती।

वो- ये तो यार बड़ा ही मुश्किल है।

मैं- क्यों ?

वो-तुम्हारे साथ बैठो तो तुम्हारी खामोशी में भी सुकून है।

मैं-अरे यार..तुम फिर शुरू हो गये।

वो- क्या शुरू...अब जो है सो है।

मैं-ऐसा है कि अब दुबारा बात करने मत चले आना, गुड बाय।

वो- अरे!

मैं-(ब्लॉक)


Rate this content
Log in

More hindi story from भावना कुकरेती

Similar hindi story from Abstract