Ramashankar Roy

Romance


1  

Ramashankar Roy

Romance


अनुभूति

अनुभूति

1 min 143 1 min 143

पत्नी ने पति के लाए खूबसूरत साड़ी को पहनकर पलंग पर बैठकर प्याले में चाय पीते पति से पूछ लिया कैसी लग रही हूँ ?

उसको साड़ी दुबारा पहननी पड़ी।

सासु माँ ने पूछा प्याली कैसे टूटी ?

बहु ने कहा मेरी उनसे हाथा-पाई हो गयी थी।

फिर यह पलंग कैसे टूट गया ?

समझौता हो गया था ।

सासु माँ ने कहा नई साड़ी अच्छी है, फिर मुस्कुराते हुए कमरे से बाहर निकल गई !

रिश्ते अपनी जगह पर उतनी ही मजबूती से अटल खड़े रहते है केवल उनको महूससने की नियत और तिव्रता में बदलाव आता है ।



Rate this content
Log in

More hindi story from Ramashankar Roy

Similar hindi story from Romance