Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!
Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!

Raksha Gupta

Tragedy

4.3  

Raksha Gupta

Tragedy

शिक्षा सफर

शिक्षा सफर

1 min
214


दुनिया एकदम बदल गयी एक महामारी के आने से,

जिन्दगी जैसे ठहर गयी थी इस प्रलय के आने से I

मन्दिर क्या मस्जिद क्या गुरुद्वारे भी शान्त हुए, 

इस दौर में शिक्षा के आलय भी सुनसान हुए I

विद्या देवी का वीणा भी क्रन्दन सा करने लगा, 

पर धरती के इन गुरुओं ने कर्तव्य पथ न डिगने दिया I

अपने ज्ञान का प्रकाश फैलाया तकनीकी के माध्यम से, 

अनुशासन भी खूब सिखाया ऑनलाइन के साधन से I

नमन मेरा उन सब गुरुओं को, शिक्षा-सफर न रुकने दिया, 

वीणा धारी माँ सरस्वती का मस्तक भी न झुकने दियाI


Rate this content
Log in

Similar hindi poem from Tragedy