Hurry up! before its gone. Grab the BESTSELLERS now.
Hurry up! before its gone. Grab the BESTSELLERS now.

Dr Lalit Upadhyaya

Action Classics


4  

Dr Lalit Upadhyaya

Action Classics


गर्मी में सर्दी

गर्मी में सर्दी

1 min 214 1 min 214

गर्मी में टपके पसीना,

ए सी बिना ही रहना,

कोरोना काल है

आइसक्रीम ठंडा मत खाना।।


 गर्मी में भी सर्दी, जुकाम व बुखार हो तो

डॉक्टर से जरूर मिलना।

फ्रिज का पानी सितम ढा सकता है,   

गले में खराश व सर्दी बढ़ा सकता है। 


अगर गले में दर्द रहता है,

 गंध व स्वाद नहीं आता है,

जाना वहां जहां डॉक्टर का

क्लीनिक दिखता है।।


 लापरवाही कर ली जिसने,  

बीमारी बढ़ा ली उसने,

94 से ऑक्सिजन है कम,

कम सांस से फूल रहा है दम।  


सबसे घर में अलग हो जाओ,   

जाकर तुरंत कोविड जांच करवाओ।  

अगर जांच है पॉजिटिव,

 मत सोचो नेगेटिव।


दवाई,सफाई और कड़ाई,

बेहद जरूरी है।।

चाहे कैसी भी हो मजबूरी

मास्क के साथ दो गज दूरी।


गर्मी की छुट्टी भूल जाओ,

बाहर की बात अभी भूल जाओ।  

कोरोना की घातक है दूसरी लहर,

जान के जोखिम का कहर,


 घर में अब तो ठहर,

पल यह भी जाएगा गुजर।।


Rate this content
Log in

More hindi poem from Dr Lalit Upadhyaya

Similar hindi poem from Action