Rohit Verma

Abstract Others Tragedy inspirational


4.2  

Rohit Verma

Abstract Others Tragedy inspirational


लड़की का चक्कर

लड़की का चक्कर

1 min 64 1 min 64

लड़की का चक्कर शायद अंधा न कर दे क्यो हम किसी को पाने की इच्छा में खुद को बर्बाद करें जो लड़की हंस कर काम निकलवा ले वह आपको गलत मार्ग भी दिखा सकती है लड़की की बुराई करना गलत लेकिन आदमी की बुराई करना भी सही नहीं बस लड़किया पाना ही इस संसार में रह चुका है इसको ज़िन्दगी का मार्ग बना रखा है लड़की और यार की सच्ची पहचान उसके बुरे वक्त में पता चलती है खुद को मत मिटाओ किसी के खातिर अपना वक्त बदलो लड़की कोई सोना नहीं न कोई चांदी वह तो केवल है एक आम इंसान लड़की के पीछे न भागे तो उठ जाते है उल्टे सीधे सवाल बिगड़ रहा है ये युवा समाज क्योंकि हर किसी ने बिछा रखा है जाल खूबसूरती देखी दूसरे की लेकिन अपनी खुद की किसी को पता ही नहीं. 


Rate this content
Log in

More hindi story from Rohit Verma

Similar hindi story from Abstract