Vijaykant Verma

Abstract


3  

Vijaykant Verma

Abstract


डियर डायरी 30/04/2020

डियर डायरी 30/04/2020

2 mins 12.2K 2 mins 12.2K


यह है रमजान का महीना और इस महीने में अल्लाह आपके सभी गुनाहों को माफ कर देता है बशर्ते आप जरूरतमंदों की मदद करें।


ऐशबाग ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी दे मुसलमान भाइयों को संदेश में कहा है कि कोरोना से बचने के लिए जो भी नियम बनाए गए हैं उनका पालन करना जरूरी है। मतलब दूरी बना कर इबादत करें घर पर ही इबादत करें मस्जिद ना जाए और मस्जिद में सिर्फ वही इबादत करें जो मस्जिद में ही रहते हैं।


उन्होंने रोजेदारों से यह भी कहा कि कोरोना के खात्मे के लिए दुआ करें। गरीबों मजदूरों को भोजन कराएं। और मरकज में शामिल तबलीगी समाज के लोगों को भी उन्होंने संदेश दिया क्यों भारत के जिस हिस्से में भी गए हो अपनी सूचना सरकार को दें अपना इलाज कराएं क्वॉरेंटाइन में रहें और जिनके भी संपर्क में आए हो वो, उनकी जान की हिफाजत करें। यही उनका धर्म है। आप के जरिए किसी और को बीमारी ना लगे यह आपका मजहबी दायित्व है।


इस्लाम में इंसान की जान को बहुत अहमियत दी गई है। इसलिए अगर आप लोगों की जान बचाते हैं गरीबों की मदद करते हैं और ईमानदारी से अपने परिवार समाज और देश के प्रति उत्तर दायित्व को निभाते हैं तो अल्लाह आपके गुनाहों को जरूर माफ करेगा आपको बरकत देगा और आपकी हर मुरादों को पूरी करेगा।


 तो दोस्तों, आइए रमजान के इस पर्व को खूबसूरत बनाएं लोगों की मदद करके उनका आर्थिक सहयोग करके उनके सपनों को साकार कर के उनके जीवन के अंधेरों को दूर करके अब उनके घरों में रोशनी भरते हैं और रोशनी का काम होता है घर को जगमगा देना। तम को मिटा देना और जीवन खुशियां ला देना..!


बिगड़ी बनाएगा अल्लाह

घर में खुशियां लाएगा अल्लाह

करेंगे जो मदद आप गरीबों का

गुनाहों को माफ करेगा अल्लाह..!


Rate this content
Log in

More hindi story from Vijaykant Verma

Similar hindi story from Abstract