Participate in the 3rd Season of STORYMIRROR SCHOOLS WRITING COMPETITION - the BIGGEST Writing Competition in India for School Students & Teachers and win a 2N/3D holiday trip from Club Mahindra
Participate in the 3rd Season of STORYMIRROR SCHOOLS WRITING COMPETITION - the BIGGEST Writing Competition in India for School Students & Teachers and win a 2N/3D holiday trip from Club Mahindra

Sriram Mishra

Romance Tragedy Others


4  

Sriram Mishra

Romance Tragedy Others


बरसों बाद मिले

बरसों बाद मिले

1 min 243 1 min 243

मीलों तलक मैं चलता रहा उनसे मिलने को।

पर रास्ते खत्म न हुए उसके ख्यालों में ।।

जिन्दगी मेरी जैसे खुशनुमा से हो गई।

उस सफर की प्यारी सी बरसातों से। ।

पर उस रास्ते पर थके हम नहीं।

मेरे हमसफ़र की यादों से।।

जी करता था मशहूर कर दूँ उसका प्यार ।

पर डर लगता है इस बात से जज़्बात से।।

फिर हम मिले उनसे प्यारी सी बातें हुई।

सदियों बाद मिले थे जैसे बरसों बाद बरसात हुई। ।

बहुत खूबसूरत था वो पल, समय बीत गया।

फिर नींद टूटी ख्वाब आंखों से ओझल हुआ। ।

थोड़े से आंखों में आंसू आये थोड़ा रोया।

फिर दिल को समझाया और फिर सो गया। ।


Rate this content
Log in

More hindi poem from Sriram Mishra

Similar hindi poem from Romance