scorpio net

Abstract


4.5  

scorpio net

Abstract


वो कैमरा ......

वो कैमरा ......

5 mins 136 5 mins 136

आज आर्ची का जन्मदिन है इसलिए उसके पति विनेश ने इम्पोर्टेड गिफ़्ट मँगाया है। क्योंकि वो आर्ची को दुनिया की हर ख़ुशी और सुख देना चाहता है। सुबह उठते ही आर्ची के सामने एक बड़ा सा गिफ़्ट पैकेट रखा हुआ है, और विनेश भी खड़े खड़े उसको देख रहा है और कहता है की इस गिफ्ट को खोलो तो गिफ्ट खोलते ही आर्ची चहक उठती है , ये तो उसे बिन मांगे ही पूरा होने वाला खवाहिश था उसके पति ने उसके लिए इम्पोर्टेड कैमरा मंगाया था ,वो भी विंटेज था वो तो इस गिफ्ट को ले कर फुले नहीं समा रही थी ,तुरंत बिस्तर से उठ कर उसने अपने पति विनेश को गले से लगा लिया और उसके पति ने भी उसको बाँहों में भर कर जन्मदिनक की शुभकामनाएं दी। उठ कर उसने जल्दी जल्दी अपने पति क लिए नाश्ता तैयार किया और उनका लंच पैक कर के उन्हें ऑफिस जाने के लिए दे दिया और विनेश ने कहा की वो आज शाम को जल्दी घर आएंगे और साथ में होटल चल कर उसका जन्मदिन मनाएंगे और डिनर भी बाहर करेंगे। विनेश के ऑफिस जाने क बाद वो फिर उस कमरे को ले कर बैठ गयी जो उसको विनेश ने गिफ्ट किया था। "मेरा कितना ख्याल रखते हैं विनेश , मैंने तो एक बार उन्हें अपनी फोटो खींचने की हॉबी बताई थी ,वो भी शादी के पहले। उन्हें अभी तक याद है और इन्होने मुझे ये सब से अच्छा गिफ्ट दिया है। " सोच सोच कर वो बहुत खुश हो रही थी मन ही मन में।

तभी वो कैमरे को ले कर बगीचे में आ गयी , अउ वहां खिले हु फूलों के फोटो लेने लगी एक एक कर के। फिर रूम म आ कर उसने सफाई की और नहा कर शाम को होटल जाने की तैयारी करने लगी। विनेश भी जल्दी आ गया और दोनों साथ म होटल गए आर्ची क जन्मदिन मनाने ,विनेश ने एक होते पहले स ही बुक किया था , उसम बड़ी ही सुन्दर सजावट की गयी थी सजावट के तौर पर रंग रंग के गुब्बारे लगाए गए थे और आर्ची और विनेश की कई सारी फोटो भी लगाई गयी थी , इतना ही नहीं ,विनेश ने चॉकलेट केक आर्डर किया था पहले से ही , जो आर्ची को बहुत पसंद है। आर्ची ने केक काटा और साथ में डिनर किया अउ बहुत एन्जॉय किया वो बहुत ही खुश है आज। दोनों कार से घर पहुंचते हैं और आर्ची , विनेश से कहती है की जो कैमरा उसने आर्ची को गिफ्ट किया है वो उस से उन दोनों की फोटो ले कर इस दिन को और भी प्यारा और यादगार बनाना चाहती है और आर्ची तो विनेश क लिए सब कुछ है इसलिए थका होने के बावज़ूद वो आर्ची की बात मान जाता है , दोनों एक दूसरे की फोटो लेते हैं , कभी कभी साथ में और कभी अकेले।

फिर दोनों कपड़े बदलते हैं सोने से पहले और इसी दौरान आर्ची विनेशसे कहती है की कल ऑफिस जाते वक़्त कैमरे से फोटो निकलवाने के लिए स्टूडियो ले जाये और लौटते वक़्त फोटो ल कर आये इतना कहने क बाद दोनों आराम से सो जाते हैं। अगली सुबह विनेश कैमरा ले कर ऑफिस के लिए निकल है और रस्ते में रुक कर एक फोटो स्टूडियो में कैमरा दे देता है यह कह कर की शाम को वो फोटो और कैमरा दोनों ले जायेगा।

शाम के वक़्त जब विनेश फोटो और कैमरा लेने स्टूडियो पहुँचता है तो देखता है की वहाँ बहुत भीड़ है और वो अंदर जा कर देखता है तो सन्न रह जाता है क्योकि फोटोग्राफर मरा पड़ा है वहाँ , शायद किसी ने बेरहमी से उसे मारा है विनेश कैमरा और फोटो उठाता है और घर जाने के दौरान उसका एक्सीडेंट होने से बाल बाल बचता है। किसी तरह वो घर पहुँचता है और आर्ची को आवाज़ देता है पर ये क्या घर में तो किसी के रोने की आवाज़ आ रही है वो भी आर्ची के कमरे से ,वो दौड़ते हुए कमरे की तरफ जाता है और देखता है की आर्ची एक स्टूल पर खड़ी है और उसके गले में रस्सी का फंदा है और उसके हाथ पीछे से बंधे हुए है वो जैसे ही आर्ची की मदद के लिए आगे बढ़ता है,

उड़ता हुआ एक झटके के साथ कमरे की दीवार से टकराता है। ये सब देख कर विनेश सहम जाट है अउ आर्ची को बचाना चाहता है।

तभी आर्ची विनेश को उस कैमरे के श्रापित होने की बात बताती है और कहती है की शैतानी रूह इस कैमरे में कैद थी बरसों से और उसने फोटो खींच कर उसे आज़ाद कर दिया और ये सब उस शैतानी आत्मा ने किया है , वो उन सभी लोगों को मार देगी जिस किसी ने भी इस कैमरे से फोटो खींची है। और इतना कह कर वो फांसी पर झूल जाती है और विनेश चाहते हुए भी कुछ नहीं कर पाता है अउ वहीं रोता रहता है और तभी उसको एक बात खटकती है की फोटो तो उसने और आर्ची ने खींची तो फोटोग्राफर कैसे मरा स्टूडियो वाला ये देखने के लिए जैसे ही वो फोटो उठाता है ,उसको एक फोटो उस फोटोग्राफर की भी मिलती है जिसने उसी कैमरे से अपनी फोटो ली थी। तभी अचानक उसे दिल का दौरा पड़ता है और उसकी मौत वहीं हो जाती है , पर वो शैतान अब आज़ाद है और अब ना जाने उस कैमरे की वजह से कौन मरने वाला है।


Rate this content
Log in

More hindi story from scorpio net

Similar hindi story from Abstract