Rohit Verma

Abstract Tragedy Others

4.2  

Rohit Verma

Abstract Tragedy Others

मतलबी दुनिया

मतलबी दुनिया

1 min
181


मतलब की दुनिया मतलब के हम और तुम सब मतलबी ही है भला करने वाला एक होता है विरोध करने वाले लाखो आ जाते है मतलब का है ये संसार पैसा है तो बात करता है दुनिया में आदमी की कदर नहीं क्योंकि ये संसार औरत की ज्यादा कदर करता है मतलब के लिए चार बात हर कोई करेगा लेकिन अपना आपका हर समय आपकी चिंता करेगा अकेले रहने वाले अकेले इसलिए रहते हैं क्योंकि वह मतलब के संसार को बखूबी जानते हैं  मेहनत से कमाने वाला ज़िन्दगी भर तक कमाता रहता है और वक्त आने पर बूढ़ा हो जाता है आप अपनी खूबसूरती का घमंड कब तक दिखाओगे जब तक जवान हो. दुनिया में चलना है तो दुनिया के साथ साथ चलो लेकिन मतलब के संसार में ऐसे कैसे चलू अमीर आदमी के पास छत के ऊपर छत आ जाती है लेकिन गरीब आदमी की छत कब उजड  जाती है पता नहीं चलता ये संसार आदमी को गलत और औरत को सही मानता इसी वजह से वह गलत करता जाता है पराई लड़की और औरत आपको सुख देगी पर आगे बढ़ते - बढ़ते आपका सब कुछ छीन लेगी कीमत यहां इंसान की नहीं पैसों की है. 


दूसरो को बचाने से अच्छा खुद को बचाओ न तो मक्खन की तरह पिघलते जाओ.  



Rate this content
Log in

Similar hindi story from Abstract