Buy Books worth Rs 500/- & Get 1 Book Free! Click Here!
Buy Books worth Rs 500/- & Get 1 Book Free! Click Here!

Anushree Goswami

Romance


4.8  

Anushree Goswami

Romance


एक नज़्म है वो

एक नज़्म है वो

1 min 326 1 min 326

सौम्य मुस्कुराहट, मधुर आवाज़,

मोहब्बत को बयां करती,

एक शायरी, एक नगमा,

एक नज़्म है वो !


शीतल नयन, नूरानी चेहरा,

दिल में उतरता, 

संवरता, निखरता,

एक ख़्याल है वो !


बरस जाती है वो,

बारिश की बूँद जैसे,

शांत, संपूर्ण,

एक अलग दुनिया है वो !


अंजान एक आहट है, 

पर जानी पहचानी लगती है,

वो वक्त, वो एक पल भी,

जैसे मेरी रूह है वो !


Rate this content
Log in

More hindi poem from Anushree Goswami

Similar hindi poem from Romance