कलमकार सत्येन्द्र सिंह

Abstract Drama Inspirational


3.9  

कलमकार सत्येन्द्र सिंह

Abstract Drama Inspirational


जिम्मेदारी

जिम्मेदारी

1 min 8 1 min 8


वो दोनों आई टी स्टूडेंट्स थे।फेसबुक पर कुछ दिनों पहले ही मिले थे।जल्दी ही दोनों में प्यार की बातें भी होने लगी थी।फिर एक दिन लड़के ने पीछे हटना शुरू कर दिया था।लड़की जब देखों तब ऑनलाइन रहती। अपनी पिक डालती। अपने वीडियोज शेयर करती। जैसे कोई और काम न हो। लोग उस लड़की को इन्फीरियरिटी काम्प्लेक्स से ग्रसित बताते थे।

"ऐसी लड़की कैसे घर संभालेगी? शादी एक जिम्मेदारी है माँ ।" – बेटे के मुंह से ऐसी बातें सुन कर माँ को गर्व हो रहा था कि उसका बेटा शादी के मतलब को समझता है।


Rate this content
Log in

More hindi story from कलमकार सत्येन्द्र सिंह

Similar hindi story from Abstract