कलमकार सत्येन्द्र सिंह

Others

2  

कलमकार सत्येन्द्र सिंह

Others

सीमांकन

सीमांकन

1 min
163



नई दुल्हन को रिवाज़ के हिसाब से अपने हाथ का छाप लगाना था।

वह घर के मुख्य द्वार पर छाप लगाने जा ही रही थी कि जेठानी प्यार से उसे घर के अंदर ले आई और देवर के कमरे के बाहर छाप लगवा दिया।

विभाजन का सीमांकन हो चुका था।


Rate this content
Log in