Independence Day Book Fair - 75% flat discount all physical books and all E-books for free! Use coupon code "FREE75". Click here
Independence Day Book Fair - 75% flat discount all physical books and all E-books for free! Use coupon code "FREE75". Click here

Nikhil Kumkum

Romance


5.0  

Nikhil Kumkum

Romance


बस तुम्हें इतना चाहता हूँ

बस तुम्हें इतना चाहता हूँ

1 min 528 1 min 528


मैं तुम्हें इतनी ख़ुशी देना चाहता हूँ कि

तुम्हें पता न रहे कि खुश रहने के बहाने होते हैं


मैं तुम्हें इतना हँसाना चाहता हूँ कि

तुम्हें पता न रहे कि रूठने की वजह क्या है


मैं तुम्हें इतना देखना चाहता हूँ कि

तुम्हें पता न रहे कि संवरना ज़रूरी है


मैं तुम्हारे लिए अम्बर से इतनी रौशनी

चुन के लाना चाहता हूँ कि

तुम्हें पता न रहे कि दिन कब ढलता है


मैं तुम्हें इतना प्यार करना चाहता हूँ कि

तुम्हें पता न चले कि प्यार करने की शर्तें होती हैं...


Rate this content
Log in

More hindi poem from Nikhil Kumkum

Similar hindi poem from Romance