Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!
Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!

Lakshman Jha

Inspirational

4  

Lakshman Jha

Inspirational

आओ जरा जी लें

आओ जरा जी लें

1 min
638



आओ नीरसता में कोई रस का संचार करें !

ओठों को खुलने दो कंठों से कोई राग करें !!

कब तक यूं वीभत्स रगों को हम अपनाएँगे !

हम क्यूँ ना अपनी प्रतिभा का इस्तेमाल करें !!


रोना हँसना सबको आता है, पर हँसना सबको भाता है !

तो हम क्यों क्रंदन करते हैं, जब हँसना अच्छा लगता है !

आओ हँसकर नस नस में प्रेम का उद्गार भरें 

ओठों को खुलने दो कंठों से कोई राग करें !!


कब तक यूं वीभत्स रगों को हम अपनाएँगे !

हम क्यूँ ना अपनी प्रतिभा का इस्तेमाल करें !!

कल जो होगा उसको होने दो, आज सबको मौज मनाने दो !

जीवन को भरो यूं ख़ुशियों से, आशाओं के महल बनाने दो !!


आओ मिलकर रंगों से तस्वीरों में रंग भरें !

ओठों को खुलने दो कंठों से कोई राग करें !!

कब तक यूं वीभत्स रगों को हम अपनाएँगे !

हम क्यूँ ना अपनी प्रतिभा का इस्तेमाल करें !!


गतिशील बिना निष्क्रिय जीवन, सकारात्मक सोच बिना ये मन !

सब कुछ बेकार कहेगा हरदम, खो जाएंगे मेरे सब तन मन धन !!

आओ हम व्यक्तित्व को चमका के शृंगार करें ! 

ओठों को खुलने दो कंठों से कोई राग करें !!

कब तक यूं वीभत्स रगों को हम अपनाएँगे !

हम क्यूँ ना अपनी प्रतिभा का इस्तेमाल करें !!



Rate this content
Log in