Read #1 book on Hinduism and enhance your understanding of ancient Indian history.
Read #1 book on Hinduism and enhance your understanding of ancient Indian history.

सीता की अग्निपरीक्षा कब तक

सीता की अग्निपरीक्षा कब तक

1 min 442 1 min 442

सीता की अग्नि परीक्षा

वो सतयुग था जिसमें भगवान

श्री राम को माता सीता की अग्नि

परीक्षा लेनी पड़ी थी


और आज तो लोगो की मानसिकता

इतनी जलील हो चुकी है कि हर पराई

औरत को गलत नजर से देखने को ताकते है

और तो और एक स्त्री का पति ही

उसका सांसारिक जीवन है


वहीं एक औरत को गलत

साबित करने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ रहे हैं

भले ही मेरे शब्द कठोर हो लेकिन

कहना चाहता हूं कि

एक चौपाल पर कुछ भीड़ बैठी है


 जो पानी लेकर आती जाती

औरतों को देख रहे , कोई सोच

रहा काश थोड़ा सा पलू सरक जाए

तो इसकी कमर दिख जाए ,

कोई सोच रहा है कि काश थोड़ा

घूंघट सरक जाए तो मुंह में ताक लूँ


ये लोगो की मानसिकता बन चुकी है,

और ये ही बातें सुनकर पति अपनी

पत्नी को शक की नजर से देखेगा,

और उसे घर में ही जलील करेगा

अपनी सहनशक्ति की सीमा लांघने

के बाद रोटियां सेंकने वाली आग

में खुद झुक जाती है


ये गलत है

पर क्या कर सकते हैं

ये जमाना है साहिब

जिस कोख से जन्म लिया

उसी कोख को अपवित्र साबित

करने में पूर्ण रूप से भागीदार है।


Rate this content
Log in

More hindi story from Shishpal Chiniya

Similar hindi story from Tragedy