Seema Khanna

Tragedy


3  

Seema Khanna

Tragedy


पहला दिन

पहला दिन

1 min 12.1K 1 min 12.1K

प्रिय डायरी 25/3/2020


आज पहला ही दिन तो है 21 दिन की तपस्या का।

अभी तो लगता है गुज़र जाएंगे ये दिन भी। हाँ कुछ चीज़ों को लेकर चिंता जरूर है, विशेषतया खाने पीने की चीज़ों को लेकर पर सच कहूँ तो हमारे लिए ये स्थिति बहुत बेहतर है, जरा उनके बारे में सोचिए जिनको रोज कुआँ खोदना पड़ता है पानी पीने के लिए, या वो जो या तो खुद बीमार है या घर में कोई बीमार है । हमेशा जीवन के सकारात्मक पहलुओं को देखें तो जिंदगी आसान सी हो जाती है वरना मुश्किलों की कमी तो किसी की ज़िंदगी मे नहीं।

आज नवरात्र का भी पहला दिन है। इसी प्रार्थना के साथ दिन की शुरुआत की कि हे माँ इस मुश्किल घड़ी में सबका संयम, संबल , संकल्प, सुदृढ़ता बनाये रख। सबकी मुश्किलें कम कर, सबका साथ दे और इस मुसीबत से जल्दी छुटकारा दिला।



Rate this content
Log in

More hindi story from Seema Khanna

Similar hindi story from Tragedy