anuradha nazeer

Abstract


4.8  

anuradha nazeer

Abstract


क्या होगा भविष्य में/

क्या होगा भविष्य में/

1 min 99 1 min 99

एक राजा था,एक दिन वो बाजार आए थे, एक आदमी राजा के पास आकर मेरा घोड़ा उड़ने वाला है बताकर बेचा।

राजा भी वो घोड़ा खरीद कर खिले चले गए। अगले दिन मंत्री को बुलाकर घोड़ा को उडाने को बताया मंत्री ने राजा से बताया की घोड़ा तो उड़ान वाले नहीं है।

अगले दिन सभा मे राजा आदेश दिया की घोड़े को उड़ाने वालो को उपहार देने का तैयार है लेकिन कोई भी नहीं आया।

राजा एक एक व्यक्ति को बुलाकर घोड़े को उडाने की तयार करने को बताते है जिन लोगों ने असफल हुआ है। उन लोगों को मारते थे। अंत मे एक सैनिक से राजा पूछा था की आप इस घोड़े को उड़ने को सिखाइए।

सैनिक एक वर्ष कालावकाश पूछा घोड़े को सीखने की।

उसने घोड़े की देखभाल करने के लिए पैसे की भी माँग की। राजा ने दिया

सैनिक की पत्नी पति घर आने के बाद पूछा आप कैसे सिखाएँगे। बात तो मुश्किल है। लेकिन सोचो अगर मैं इन्कार किया है तो तुरंत राजा मुझे सज़ा देंगे।

इसलिए एक वर्ष समय माँगा मैंने, इस एक वर्ष मे कुछ भी हो सकता है। राजा को समझ में आ सकता है या घोड़े भी उड़ सकते है कौन जाने, क्या होगा भविष्य में।


Rate this content
Log in

More hindi story from anuradha nazeer

Similar hindi story from Abstract