Yashwant Rathore

Drama Horror Tragedy


2  

Yashwant Rathore

Drama Horror Tragedy


एक बजे

एक बजे

3 mins 120 3 mins 120

एक कमरे में चार दोस्त रात को एक बजे, बैठ के दारू पी रहे हैं। सब कॉलेज फ्रेंड हैं। पहला लड़का, लड़की लिव इन मे रहते हैं, दो दोस्त आज उनके यही रुक गए हैं।

पहला लड़का - यार इस रूम में ना पहले कोई किरायेदार थे। एक औरत थी उसको करंट लग गया, इसी रूम में, चिपक के मर गयी। मकान मालिक ने बताया।

दूसरा लड़का - नही यार

लड़की - हां, हां, आंटी ने हम दोनों को बताया था।

तीसरा लड़का ( ज्यादा पिआ हुआ, थोड़ा बहका हुआ) - ह्म्म्म भूत होते हैं, हां भूत होते है

दूसरा लड़का - (विक्रम जो सबका classmate था, कुछ ही दिन पहले रोड़ एक्सीडेंट में expire हो गया था) - यार अपन सब का जिगरी , विक्रम कितनी जल्दी चला गया। उसकी आत्मा को बुलाये क्या? अगर मन से ध्यान लगा के याद करो, अगर उनकी आत्मा भटक रही है तो वो बात कर लेती है। मैने पढ़ा है।

पहला लड़का - पागल हो गए हो क्या? रात की एक बजी है। फालतू के काम नहीं करने।

तीसरा लड़का - हां, बुलाते हैं, बुलाते हैं।

लड़की - यार में भूत वूत को तो नहीं मानती, पर इंटरेस्टिंग है। ट्राई करते है ना

लड़की पहला लड़के का हाथ पकड़ बैठ जाती है, तीसरा लड़का भी हाथ पकड़ लेता है। दूसरा लड़का खिड़की में रखी मोमबत्ती उठाता है, जला के बीच मे रख देता हैं, लाइट बंद कर देता है। सब एक दूसरे का हाथ पकड़े हुए प्रार्थना कर रहे है।

सबकी आंखे बंद है। कुछ देर बाद

तीसरा लड़का एकदम से लुढ़क जाता है। सब थोड़ा सा डर जाते है।

पहला लड़का - इसको क्या हुआ।

लड़की - ज्यादा पी थी, नींद आ गयी होगी।

दोनों दूसरे लड़के को देखते हैं।

दूसरा लड़के की गर्दन झुकी हुई, अपने पैरों की तरफ देख रहा हो जैसे, पायल ठीक कर रहा हो जैसे, हल्का सा हँसता सा, गुनगुनाता हुआ

छन छनन न छन, छन छनन न छन

पहला लड़का - यार नाटक मत करो।

दूसरा लड़का अब गाना गाते हुए, खड़ा होता है। लड़की की तरह अंगड़ाई लेते हुए

आजा आजा रे पिया

आज माने ना जिया

पहला लड़का- डर से चीख निकल जाती है। घिसता हुआ पीछे की तरफ खिसकता है।

दूसरा लड़का, पहले लड़के की तरफ बढ़ता हुआ, गाना जारी रखता है।

बाहों में ले ले मुझे

सोचता है क्या, ओ जाने जा

पहला लड़का डर के पीछे दीवार से लग जाता हैं, गुमसुम सा, खामोश सा हो बस दूसरा लड़के को एकटक देखता रहता हैं।

इसी बीच मे लड़की भाग के जाती है और रसोई से चाकू ले आती हैं, वो दूसरे लड़के की तरफ चाकू दिखाते हुए

लड़की - ( डर और गुस्से के साथ) - मज़ाक मत कर, नहीं तो मार दूंगी ,सच में

दूसरा लड़का - जोर से हँसता है। कुछ देर हँसने के बाद- मज़ा आ गया, फट्टू सालों...

लड़की - बेवकूफ़

दूसरा लड़का ,लड़की, पहला लड़के के पास जाके, उसको हिलाते है। पर वो उसी गुमसुम हालत में, शांत...



Rate this content
Log in

More hindi story from Yashwant Rathore

Similar hindi story from Drama