Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!
Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!

Harsh Mathur

Others Romance

2  

Harsh Mathur

Others Romance

वो बातें

वो बातें

1 min
195


वो शब्द जो,

लबों पे ना आ सके।

वो बातें जो,

आँखों में ही रह गई।


वो किस्से जो,

स्कूल के बरामदे तक

ही रह गए।

शरारतें जो,

यादें बन कर रह गई।


देखा करता था,

तुम्हारी आँखों में ,

महसूस करता था,

तुम्हारी साँसों को,

जैसे हो मेरी साँसे।


दिल की बात दिल से,

मन का भाव मन से,

बात जो अंदर की थी,

शब्दों में जिसकी जगह

न थी।


Rate this content
Log in