Participate in the 3rd Season of STORYMIRROR SCHOOLS WRITING COMPETITION - the BIGGEST Writing Competition in India for School Students & Teachers and win a 2N/3D holiday trip from Club Mahindra
Participate in the 3rd Season of STORYMIRROR SCHOOLS WRITING COMPETITION - the BIGGEST Writing Competition in India for School Students & Teachers and win a 2N/3D holiday trip from Club Mahindra

Lakshman Jha

Romance


4  

Lakshman Jha

Romance


“ साजन तेरे साथ रहूँगी “

“ साजन तेरे साथ रहूँगी “

1 min 169 1 min 169


याद बहुत तुम आते हो, नींदों में हमें सताते हो!

चोरी चोरी चुपके चुपके, मेरे सपनों में आ जाते हो !!

याद बहुत तुम आते हो, नींदों में हमें सताते हो !

चोरी चोरी चुपके चुपके, मेरे सपनों में आ जाते हो !!


नजरों से ही हम बात करें, बिन छूए हम एहसास करें !

आँख मिचोली कर कर के, सपनों में भी हम दूर रहें !!


जब सपने टूट जातें हैं, तुम ओझल हो जाते हो !

चोरी चोरी चुपके चुपके, मेरे सपनों में आ जाते हो !! 

याद बहुत तुम आते हो, नींदों में हमें सताते हो !

चोरी चोरी चुपके चुपके, मेरे सपनों में आ जाते हो !!


पता नहीं तुम कब आओगे, किस्मत मेरी चमकाओगे !

नयनों से मेरे आँसू बहते हैं, उसको कैसे तुम रुकवाओगे !!


सबके साजन साथ रहे, तुम तो छोड़ चले जाते हो !

चोरी चोरी चुपके चुपके, मेरे सपनों में आ जाते हो !!

याद बहुत तुम आते हो, नींदों में हमें सताते हो !

चोरी चोरी चुपके चुपके, मेरे सपनों में आ जाते हो !!


साथ निभाना है तो निभाओ, प्यार का कोई राग सुनाओ !

सपनों में आना तुम छोड़ो, सात जनम का साथ निभाओ !!


हम तो अब तेरे साथ रहेंगे जहाँ जहाँ तुम रहते हो !

चोरी चोरी चुपके चुपके, मेरे सपनों में आ जाते हो !!

याद बहुत तुम आते हो, नींदों में हमें सताते हो !

चोरी चोरी चुपके चुपके, मेरे सपनों में आ जाते हो !!



Rate this content
Log in

More hindi poem from Lakshman Jha

Similar hindi poem from Romance