anuradha nazeer

Abstract


4.5  

anuradha nazeer

Abstract


जानकार पंडित

जानकार पंडित

1 min 3.1K 1 min 3.1K

गाँव में पंडित था। वह सभी शास्त्रों के अच्छे जानकार था। वह सब कुछ जानता था, लेकिन, वह गरीब था। यहां तक ​​कि उसके कपड़े भी बहुत खराब थे। तो, पंडित अपने भोजन के लिए भीख माँगते था ।वह घर-घर जाकर भीख मांगता था। "कृपया मुझे भिक्षा दो"। उसके पुराने कपड़ों को देखकर कई लोग सोच रहे थे कि वह पागल है। इसलिए, "गो अवे" कहते हुए उन्होंने दरवाजा बंद कर दिया। कई दिनों तक उसने खाना भी नहीं खाया।एक अमीर आदमी ने पंडित को वो कपड़े दिए। उन नए कपड़ों को पहनकर वह पहले की तरह भीख मांगने गया था।


बड़े आदर के साथ वह पंडित को भोजन के लिए अंदर ले गया। पंडित खाना खाने बैठ गया। विभिन्न प्रकार के सूप, मीठे भोजन, वाड्स, और मीठे खाद्य पदार्थ खाने के लिए परोसे जाते थे। पंडित उसे अपने कपड़े खिला रहा था। जब मालिक ने पूछा तो पंडित ने पहले कहानी बताई।



Rate this content
Log in

More hindi story from anuradha nazeer

Similar hindi story from Abstract