Hurry up! before its gone. Grab the BESTSELLERS now.
Hurry up! before its gone. Grab the BESTSELLERS now.

Dheeraj Bhardwaj

Horror


4  

Dheeraj Bhardwaj

Horror


दानवपुर गाँव को मिली मुक्ति शिवा ओर रुद्रा की कहानी पार्ट -5

दानवपुर गाँव को मिली मुक्ति शिवा ओर रुद्रा की कहानी पार्ट -5

4 mins 255 4 mins 255

दोस्तों जैसा की पिछले भाग मे बताया गया था की पुरे गाँव ने तांत्रिक के दिए हुए क्लावो को सबने अपने हाथो मे बांध लिया था उन्होंने सोचा की अब वो अब दानवपुर गाँव से सुरक्षित है वो उनका कुछ नहीं कर सकते पर ऐसा नहीं हुआ क्युकी तांत्रिको ने जो क्लावे सभी गाँव वालो को बाँधने के लिए दिए थे वो देखते ही देखते काले पड़ गए तांत्रिको के सभी मंत्र असफल होने लग गए ऐसा लग रहा था मानो जैसे तांत्रिको के दिए हुए क्लावो ओर मंत्रो का उन पर कोई प्रभाव पड़ ही ना रहा हो तांत्रिको ने गाँव को मंत्रो से सुरक्षित किया था पर जैसे ही रात के 8 बजे रक्षनापुर गाँव मे अजीबो गरीब घटनाए होने लग गई ओर दानवपुर गाँव पहले के जैसे जगमगा उठा रक्षणनापुर के सभी लोग ओर तांत्रिक इस सोच मे पड़ गए की ऐसा कैसे हो सकता है हमारी तंत्र विद्या असफल कैसे हो सकती है इन सब के पीछे कौन सी ताकत है ये साधारण आत्मा का काम नहीं हो सकता इसके पीछे जरूर कोई वजह है

हाँ दोस्तों तांत्रिको का सोचना सही है ये कोई साधारण आत्मा का काम नहीं है क्युकी मानवपुर गाँव के लोग बहुत बहुत अच्छे थे उनकी नेकी के आगे तो सब झुक जाया करते थे पर रक्षणनापुर के लोगो ने मानवपुर को दानवपुर गाँव मे बदला इसलिए अब दानवपुर के दानवो का साथ देने के लिए साइको डेविल को आना पड़ा जो के शैतानी दुनिया का राजा कहा जाता था साइको डेविल दानवो को मुक्ति दिलाता है अगर साइको डेविल दानवपुर का साथ ना देता तो दानवपुर गाँव मर के भी अपना बदला ना ले पता क्युकी जो तांत्रिको ने मन्त्र से गाँव को बाँधा था वो टूट नहीं सकते ओर ना ही कलावे का कोई तोड़ था इसलिए साइको डेविल को आना पड़ा को तांत्रिको के मंत्रो से दानवपुर गाँव को आज़ाद किया ओर क्लावे के मंत्रो को भी असफल कर दिया...

उसके बाद दानवपुर गाँव वालो ने बोला की जैसा उन्होंने हमारे साथ किया था हम उससे भी बहुत बुरा अब उनके साथ करेंगे ओर ऐसा बोलते ही वो रक्षनापुर गाँव के तरफ बढे ओर जो तांत्रिक रक्षणनापुर गाँव वालो को बचाना चाहते थे उन्हें तड़पा तड़पा कर रक्षणनापुर गाँव वालो के आगे ही मार डाला ये सब देख के वो ओर ज्यादा डर गए ओर उनकी एकता से रहने की बात भी धरी की धरी रह गई सब ये देखते ही इधर उधर अपनी जान बचाने के लिए भागने लगे ओर फिर दानवपुर गाँव के दानवो ने रक्षणनापुर के लोगो को धीरे धीरे करके जिन्दा जलाना शुरू किया पर उन्होंने किसी को भी पूरी तरह से नहीं जलाया उन्हें आधा आधा जला कर तड़पने के लिए छोड़ दिया रक्षणनापुर के गाँव वालो के आगे उनका परिवार जल कर तड़प रहा था वो रोने के अलावा कुछ कर नहीं पर रहे थे वो दानवपुर गाँव वालो से अपने जीने की भीख मांग रहे थे वो बोल रहे थे उनसे बहुत बड़ा पाप हुआ है उन्होंने गुस्से मे जलन मे बहुत बड़ा पाप कर दिया था अब तुम हमारी लाचारी पर तरस खा कर हमें छोड़ दो.. परन्तु दानवपुर गाँव का गुस्सा अब शांत होने के स्तर पर नहीं था वो अपना पूरा प्रकोप उन पर दिखा रहे थे तभी रक्षणनापुर के निवासियों ने कहा अगर आप सब हमें जिंदगी नहीं दे सकते तो हम सबको एक साथ मौत दे दीजिये पर ऐसे हमारे ही आगे हमारे घर वालो को तड़पा तड़पा के मत मारो.. दानवपुर गाँव के दानव उन्हें इस तरह जला रहे थे की उन्हें उस हाल मे देख कर किसी की भी रूह काँप जाए दानव पुर गाँव के दानवो ने उन पर बिलकुल भी तरस नहीं खाया ओर रक्षणनापुर गाँव की सभी महिलाओं को जिन्दा जमीन मे गाड़ दिया ओर उनकी रूह को तंत्र मंत्र द्वारा वही उसी जगह कैद कर दिया उसके बाद जितने भी लोग गाँव मे बच गए थे वो जी तो रहे थे कुछ लोग आधे जल कर तड़प रहे थे उनके इलाज के लिए कोई आ नहीं सकता था ओर वो अपने गाँव से कहीं जा नहीं सकते थे कुछ लोग ऐसे तड़प तड़प कर मरते गए ओर जो कुछ बचे थे उन्हें कुछ खाने को नहीं मिल रहा था वो भूख प्यास से तड़प रहे थे फिर उन्होंने खुद को ही जला लिया ओर मर गए... ओर फिर मिली दानवपुर गाँव को मुक्ति ओर वो साइको डेविल की दुनिया से बाहर निकले..

कभी भी अपने फायदे के लिए दुसरो को नुकसान ना पहुँचाए ना ही उनकी भावनाओं को ठेस पहुँचाए... सभी मिल कर रहे खुश रहे..

फिर मिलते है अपनी अगली कहानी के साथ...


Rate this content
Log in

More hindi story from Dheeraj Bhardwaj

Similar hindi story from Horror