manju gupta

Inspirational


3  

manju gupta

Inspirational


लॉकडाउन का 5वां दिन

लॉकडाउन का 5वां दिन

2 mins 113 2 mins 113

आज देश के लॉकडाउन का पाँचवा दिन और नवरात्रे का 5वां दिन है। जिंदगियाँ दांव पर लगी है। किरोना अपना असर दिखा रहा है। देशभर में कोरोना के 979 लोग पीड़ित हैं। लोगों का जीवन बच सके। सरकार को 21 दिन को भारत बंद करना पड़ा। जीवन तहस, नहस जरूर हुआ है। कोरोना का संक्रमण को रोकने के लिए ये कदम सराहनीय देश हित में है।

कुछ भुटठीभर भारत विरोधी ताकतों ने इन गरीब तबकों को भड़काया है। जिससे ये गरीब तबके पलायन करने के लिए मजबूर हुए हैं। लंबी मीलों के पैदल यात्रा से मौसम की मार पड़ी अलग और पैरों पर छाले। उनकी शारीरिक, मानसिक परेशानी, दुर्दशा को बता रहे हैं। 

महानगरों से मजदूर, गरीब, वंचित वर्ग जो किराए आदि पर रहते थे। मकानमालिकों ने उन्हें निकाल दिया। रोज दिहाड़ी पर खाते, कमाते ये गरीब तबका को अपने गाँव को पैदल चलकर लौटना मजबूरी है। इन्हें 2 जून की रोटी नहीं खाने को है। गाँव में जाकर कुछ तो पेट भरने का जुगाड़ मिल ही जाएगा।

इन नदानों को यह नहीं मालूम सरकार ने लॉकडाउन कोरोना के फैलने से बचने के लिए किया है।

भूखे, प्यासे अपने अबोध बच्चों को गोदी में लिए लंबे - लंबे पथरीले वीरान रास्तों पर चल दिये हैं। देश, समाज चिंतित है, इन्हें देख के।

देश की जनता घर में बंद है। 

नवरात्रे चल रहे हैं। देवी दुर्गा की नो रूपों भवन पूजा होती है। धरा पर राक्षसों का संहार कर पावन पुण्य मानवता को विजयी किया था। रक्तबीज की तरह कोरोना का वायरस को मारना चुनोती है। इसका उपाय सामाजिक दूरी है। घर पर भी हर जन से 6 फीट की दूरी जरूरी है। मजदुरों, ऐसे लोगों को 14 दिन क्वरानटाइन , आइसोलेशन भी जरूरी है।

ये वर्ग कानून की धज्जियाँ उड़ा रहा है। राज्य सरकार लॉकडाउन होने से पहले इन वर्गों को समझाना था। 10, 20साल से ये लोग वहाँ काम कर रहे थे।  

मकानमालिकों की हैवानियत है। इनको निकलना पड़ा। अब हर राज्य सरकार को इन पालयन हुए गरीब लोगों को सेल्टर में रखें। इनके खाने की व्यवस्था हो। इनके कोरोना की जांच होनी चाहिए। लोग लॉकडाउन का उल्लंघन कर रहा है। सरकार ने पालयन रोकने का आदेश दिया है। लोगों को 'आप सरकार 'के वालंटियर, कार्यकर्ता को भेजकर इन मजदूरों की बस्तियों में जाकर समझाना था। 

सड़कों पर निकले लोगों ने लाकडाउन फेल कर दिया है। इन लोगों में भी कोरोना हो सकता है। इनकी जाँच होनी चाहिए। अब ये वर्ग जहाँ है, वही इन्हें रोके। इनकी खाने,रहने की व्यवस्था की जाए। इनकी परेशानी, समस्या दूर करें पूरा भारत तभी कोरोना से बचेगा।


Rate this content
Log in

More hindi story from manju gupta

Similar hindi story from Inspirational