Become a PUBLISHED AUTHOR at just 1999/- INR!! Limited Period Offer
Become a PUBLISHED AUTHOR at just 1999/- INR!! Limited Period Offer

Sneha Swadha

Tragedy Inspirational

2  

Sneha Swadha

Tragedy Inspirational

क्या मैं आज़ाद हूँ

क्या मैं आज़ाद हूँ

1 min
34


मैं भारत की बेटी पूछती हूँ आप सब से - 


देश हमारा आज़ाद है, 

क्या मैं आज़ाद हूँ ? 


शिक्षा मेरा अधिकार है, 

क्या सच मे मुझे प्राप्त हैं? 


#Free India बोलते हैं सब, 

क्या सच मे समाज की रूढ़ी से मैं फ्री हूँ ? 


मेरी सुरक्षा के लिए बने हैं कई नियम, 

क्या सच मे मैं सुरक्षित हूँ ? 


पूजते हैं देवी बना कर, 

और लूटते हैं तिजोरी समझ कर, 

क्या सच मे मैं सन्मानित हूँ ? 


रात को अकेली घर से बाहर निकल नहीं सकती, 

मर्जी के कपड़े पहन नहीं सकती, 

क्या सच में मैं स्वतंत्र हूँ ? 


बोलिए ना क्या सच में मैं स्वतंत्र भारत की एक स्वतंत्र बेटी हूँ ?



Rate this content
Log in

Similar hindi poem from Tragedy