Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
"वो नन्हा पपी"
"वो नन्हा पपी"
★★★★★

© Rockshayar Irfan Ali Khan

Inspirational

1 Minutes   7.1K    7


Content Ranking

 

सङक के किनारे जा रहा था मैं

कल शाम यूँही टहलते टहलते

तभी अचानक इक नन्हा सा पपी

मुझे सङक के बीचो बीच नज़र आया

मासूम सा वो पपी भूरे चितकबरे रंग का

एकदम से घबरा गया

तेज दौङती हुई

भागती हुई गाङियो के शोर से

चकाचौंध से

मैंने झट से उसे उठाया

फुटपाथ से दूर रख दिया

और फिर अपने रस्ते चलने लगा

थोङी देर बाद मैंने पाया कि

वो भी मेरे पीछे पीछे आ रहा है

नन्हें नन्हें कदमो से धीरे धीरे

जैसै ही मैं ठहरा तो

सीधे आकर मेरे पैरों को चाटने लगा

ऐसे उछल कूद करने लगा

जैसे घर मिल गया हो उसे

मैंने उसे गोद में उठाया

और प्यार से सहलाया 

वो मासूम नज़रो से मुझे देख रहा था

और बहुत कुछ कह भी रहा था

मैंने उसे बिस्कुट खिलाया

फिर थोङा पानी पिलाया

इतनी देर में उसकी माँ आ गई

उसे तलाशते हुए ढूँढते हुए

मैंने ज्योंही उसे ज़मीन पर छोङा

वो तेजी से भागता हुआ

सीधा अपनी माँ से जाकर चिपट गया

उसकी माँ की आँखों में मैंने वही पानी देखा

जो हर माँ की आँखों में होता है

अपनी औलाद के लिए

जाते जाते वो नन्हा पपी

बार बार मुङ कर

मुझे देखे जा रहा था

शायद कहना चाह रहा था

शुक्रिया 'इरफ़ान' 

 

 

Puppy Pet Road Walk Emotion

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post


Some text some message..