Reetu Singh Rawat

Inspirational


2.4  

Reetu Singh Rawat

Inspirational


मजदूर मेरे घर का दीपक तेरे खून

मजदूर मेरे घर का दीपक तेरे खून

2 mins 2.9K 2 mins 2.9K

जीवन में कई बार हम सब ने संकट का सामना किया होगा। पर आज भारत में कोरोना महामारी से ग्रस्त और लॉक डाउन से परेशान गरीब मजदूर सड़कों पर पैदल अपने गांवों की तरफ निकल पड़े। जहां सड़कें छोटी और कदमों की रफ्तार तेज होती गई। जिस मेहनत से मजदूर काम करते हैं उसी मेहनत से कई सौ किलोमीटर की सड़कों की दूरी गरीब मजदूरों ने पैदल और साइकिल पर कर डाली। गरीबों की चाहत सिर्फ इतनी थी कि घर और घरवालों तक पहुँचना है। कितना मुश्किल हुआ होगा। आत्मा तक रोई होगी पर हौसला नहीं टूटा और घर के दरवाज़े पर सांस मिली होगी। ऐसा वक़्त आया जहां मौत का डर नही सिर्फ घर की दहलीज पर पहुँचना ही जिंदगी का मकसद है गरीब की मेहनत ने मौत से भी हार नहीं मानी। समय ही वो चक्र है जो मौत से भी लड़ जाता है कहते है न मेहनत करने वाले कि हार नहीं होती है। आज भारत के इतिहास के पन्नों में लिख गया कि कोरोना महामारी से मज़दूर को डर नहीं। मजदूर की मेहनत पसीने को भी खून बना कर आगे बढ़ गई है। मजदूरों की हिम्मत ने हमारी आँखों में आँसू ला दिए, दोपहर की धूप बच्चों के साथ समान का बोझ उठाकर अपने सपनों को जिंदा रखने की चाहत में निकल पड़े। अपनों के साथ मरने और जीने की लालसा में जीना है या मरना है बस अपने घर और घरवालों के साथ रहे। सारी जिंदगी मजदूर घर परिवार के लिए मजदूरी करने के लिए शहर - शहर काम करता है। 

कोरोना महामारी ने जिंदगी को बदल कर रख दिया। अपनों की तड़फ का दर्द ने सड़कों का रास्ता भी छोटा कर दिया। मजदूर की मेहनत ने एक नया इतिहास रच दिया।

मजदूर की मेहनत को सलाम और इंसानियत भरे लोगों से कहना चाहूंगी कि कभी जिंदगी में मजदूर की मजदूरी की मेहनत पर आँख न रखें। अपनों से दूर रहकर हमें बड़ा आदमी बनाने के लिए अपने घर परिवार का त्याग कर मजदूर हमारी जिंदगी को सँवारते है। बहुत से लोगों उनकी मेहनत की कमाई भी समय अनुसार नहीं देते है कई बार वह अपनी मेहनत की मजदूरी छोड़ कर रोते हुए चले जाते है। अमीरों के इन बड़े -बड़े शहरों में मजदूर को मजबूर होते हुए देखा है। मजदूर तेरी मजबूरी ही मजदूरी है।

 फिर भी हर सुबह सबको तेरी जरूरत है। तेरे बिना जीवन अधूरा सा लगता है। तू ईश्वर का बनाया एक फरिश्ता है। मेरे घर का दीपक तेरे खून से जलता है।  


Rate this content
Log in

More hindi story from Reetu Singh Rawat

Similar hindi story from Inspirational