Exclusive FREE session on RIG VEDA for you, Register now!
Exclusive FREE session on RIG VEDA for you, Register now!

Lakshman Jha

Inspirational


4  

Lakshman Jha

Inspirational


सफल प्रयास

सफल प्रयास

1 min 3 1 min 3

कोई पढ़े या ना पढ़े, हम लिखते जाएंगे !

कोई देखे या ना देखे, कलाबाजी दिखाएंगे !


हमें चाहत नहीं कोई, नहीं सम्मान के भूखे !

जिसे अच्छा लगे मेरी, उसे स्नेहों से ही सीखे !


लेखनी से सबको हम, संदेश सौ बार देते हैं !

उनकी मर्जी है उसे वे, किस अंदाज में लेते हैं !


पुरस्कार सम्मान तभी, सही में माना जाएगा !

जब सब लोगों में पूरा, संदेश ही फैल जाएगा ! 


Rate this content
Log in

More hindi poem from Lakshman Jha

Similar hindi poem from Inspirational