Hurry up! before its gone. Grab the BESTSELLERS now.
Hurry up! before its gone. Grab the BESTSELLERS now.

Dr Sushil Sharma

Romance


4  

Dr Sushil Sharma

Romance


प्रेम की बातें (गीत)

प्रेम की बातें (गीत)

1 min 154 1 min 154


सुनो ओ साजन मेरे मीत।


तुम्हारी मृदुल मनोहर गंध।

प्रेम के पावन जीवन बंध।

तुम्हीं हो मेरी जीवन रेख।

साँस आती है तुमको देख।


मिलोगे मुझसे कब मनमीत।

सुनो ओ साजन मेरे मीत।


बना लो मुझको जीवन गान।

मिले उन बाहों का आधान।

लगे रीता सा ये संसार।

बनो तुम मेरी जीवन धार।


तुम्हें पाकर ही मेरी जीत।

सुनो ओ साजन मेरे मीत।


बिना प्रियतम ये जीवन राख।

तुम्हीं हो मेरी जीवन साख।

चले आओ जीवन आधार।

तुम्ही हो मेरा सच्चा प्यार।


निभाओ पावन मन की रीत।

सुनो ओ साजन मेरे मीत।


तुम्ही में मेरा तन मन वास।

चलो हम नचलें जीवन रास।

हमीं हैं राधा तुम घनश्याम।

मिलोगे कब मुझको हे राम।


सदा से तुमसे सच्ची प्रीत।

सुनो ओ साजन मेरे मीत।



Rate this content
Log in

More hindi poem from Dr Sushil Sharma

Similar hindi poem from Romance