Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests

Language


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
ज़िंदगी
ज़िंदगी
★★★★★

© Anantram Choubey

Drama

1 Minutes   6.5K    0


Content Ranking

जिन्दगी बड़ी

अजीब है

कभी हंसाती है

कभी रूलाती है ।

पल पल में अपना

रूप बदलती है ।

खुशियाँ तो आती है

फिर चली जाती है ।

जाते ही गम दे जाती है ।


गम हो दुख हों बहुत

बेदर्दी से सताते है ।

सारी खुशियाँ पल

भर में मिट जाती है ।

जिन्दगी है सुख दुख

के झूले मे झूलती है ।

सपनो सी ये जिन्दगी

धूप छाँव सी बदलती है ।


खुशियाँ हो सुखी

जीवन हो गुज़रते

बीतते समय का

पता ही नही चलता है ।

पंख लगाये उड़ता है ।

जीने का हौसला बढता है ।


खुशबू सा महकता है ।

चाँद को तारो को

छूने का मन करता है ।

जिन्दगी के हर अरमानो

को खुशी से जीता है ।

बचपन युवा जवानी

बुढापे मे भी खुश होता है

सुख दुख भरी ये जिन्दगी

हर इन्सान ऐसे ही जीता है ।

Life Experiences Lessons

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..