Hurry up! before its gone. Grab the BESTSELLERS now.
Hurry up! before its gone. Grab the BESTSELLERS now.

सुख - दुख

सुख - दुख

3 mins 15.6K 3 mins 15.6K

रात 10 बजे का वक़्त था, एक व्यक्ति से तेजी से ग्रोसरी शोप की तरफ जा रहा था । उसका सारा ध्यान अपने मोबाइल पर था । तभी उसका पाँव पेड़ के पास पड़े एक डिब्बे से टकराया और वो डिब्बा खुल गया । अचानक उस डिब्बे से धुंआ सा निकलने लगा थोड़ी चिंगारी भड़की और एक यक्ष प्रकट हुआ । वो बहुत गुस्से में था। उसको देखते है वो व्यक्ति घबरा सा गया ।

यक्ष गुस्से में बोला, तुम ध्यान से नही चल सकते । मेरी सारी नींद खराब कर दी । उस व्यक्ति ने माफी मांगी ओर कहाँ की उसे ऐसा जरा सा भो बोध नही था कि आप यहाँ इस डिब्बे में होंगे ।

यक्ष बोला, ऐसा क्या जरूरी काम है कि वो चलते चलते भी अपने मोबइल पर ध्यान दे रहा है ।

व्यक्ति बोला कि वो व्हाटसअप पर किसी के सवाल का जवाब दे रहा था ।

यक्ष ने कहा कि ऐसा क्या जवाब जो तुम आराम से किसी जगह बैठ कर नही दे सकते । जरा विस्तार में बताओ नहीं तो मैं तुमको इस डिब्बे में बंद कर दूंगा ।

वह व्यक्ति बताने लगा कि वह कम्पनी का सेल्स मैनेजर है दुकान से ठंडे पानी की बोतल और सोडा लेने जा रहा था। एक ग्राहक शाम से काफी परेशान है, मैं उसकी समस्या हल कर रहा था ।

यक्ष बोला कि लगता हैं तुम काफी बुद्विमान व्यक्ति हो । चलो मेरे प्रशन का जवाब दो । अगर सही दिया तो जा सकते हो । अच्छा ये बताओ सुख और दुख क्या है ?

वो बोला प्रभु जो दिन आराम से गुजरे, ऑफिस घर मे शांति रहे ओर किसी डीलर या ग्राहक का मैसेज ना हो । अगर हो भी तो बस बधाई या अच्छी खबर का हो, मेरे लिए यह ही सुख है ।

और दुख ?

जैसे आज की ही बात ले ले, सुबह सुबह ही जोरदार बारिश हो गयी । बहुत मुश्किल से बच्चो को स्कूल छोड़ा, आते वक्त गाड़ी पानी मे बंद हो गई, दोपहर तक ऑफिस पहुँचा । जल्दी जल्दी सारे काम किये। 2-3 डीलरों की समस्या सुलझाई । शाम को मंथ क्लोजिंग के लिये 2-3 घंटे और लग गये । जाते जाते बॉस ने अर्जेंट मीटिंग रख ली ।

ट्रेफिक जाम से जूझता घर पहुँचा । जैसे ही घर आया, वाइफ ने पानी दिया तो पानी गरम था ।

मेरे पूछने पर कि पानी ठंडा क्यों नहीं दिया वो प्यार से बोली, सारी दुनिया का काम करवाते हो, तीन दिन पहले बताया था कि फ्रीज में गैस लीक हो गयी है, आपको याद भी रहे किसी मैकेनिक को बुलाने की ...! बस प्रभु ...

तभी यक्ष बोले.. बस कर पगले समझ गया, अब रुलाएगा क्या .. जा जा सॉरी तुझे रोका ।


Rate this content
Log in

More hindi story from Rajeev Rana

Similar hindi story from Drama