Pooja Mani

Tragedy


4.5  

Pooja Mani

Tragedy


नई दिशा

नई दिशा

1 min 198 1 min 198

आज हर अख़बार और न्यूज चैनल पर एक ही न्यूज छाई थी ,शहर की जानी मानी रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर प्रशांत को पुलिस ने धर दबोचा,खबर देखकर 

कनक ऑंखें छलक गईं और पिछले दो महीने की बातों को याद करने लगी ....डॉक्टर प्रशांत के काले कारनामो को उजागर करने के  पीछे कनक की स्टिंग ऑपरेशन का बहुत बड़ा हाथ था ... कनक जब से गर्भवती हुई है| बस एक ही बात सता रही है कि इस बार बेटा नहीं हुआ तो घर में शांति से जीना दूभर हो जायेगा..... पहले से एक बेटी होने के कारण सास ने इस बार बेटा ही होना चाहिए का फ़रमान सुना दिया ....सास ने तो ऐसे कहा था जैसे बेटा और बेटी होने कनक के हाथ मे था ।

तीसरा महीना लगते ही डॉक्टर प्रशांत के पास लिंग परीक्षण की बातें घर मे दबे आवाज मे चल रही थी,कनक ने अपने ससुरालों वालो के समझाने की कोशिश की .....उसकी बात सुनने को कोई भी तैयार ना था ।मन ही मन उसने फैसला कर लिया ये ज़ो डॉक्टर प्रशांत जैसे लोग क़ानून का मजाक उड़ा रहे है ...उन्हें क़ानून के द्वारा ही सबक सीखना होगा ।अपनी

सहेली की मदद से उसने एक स्पाई कैमरा अपने पास रख ली थी ...अल्ट्रासोनोग्राफी करने के बाद डॉक्टर प्रशांत ने कनक की रिपोर्ट पर 9 लिख कर बाहर 

प्रतीक्षा करने को कहा ,उसके केबिन में अपने पति के साथ गईं ..पति रवि उतावला होकर 9का मतलब पूछने लगा ।डॉक्टर प्रशांत ने देवी मैया आ रही है 

कह ठहाका लगा कर हंसने लगा ।

तभी बाहर सादे कपड़े में खड़ी पुलिस केबिन में घुसकर डॉक्टर प्रशांत को धर दबोची । "तुम पर मुझे बहुत गर्व है कनक,शुरू में मै तो तुम्हारे खिलाफ था,

लेकिन मैंने बाद में सोचा बेटा और बेटी में फर्क कैसा ...

बेटियां तो अपना भाग्य लेकर आती है और अपना सौभाग्य खुद बनाती हैं "...कह रवि कनक को अपने गले से लगा लिया तभी किसी के स्नेहिल स्पर्श से 

कनक वर्तमान में लौट आई ...तुझ जैसी बहू हमारे समाज में  नई दिशा और परिवर्तन लाते है ।

           

                          

  



Rate this content
Log in

More hindi story from Pooja Mani

Similar hindi story from Tragedy