shivendra mishra 'आकाश'

Inspirational

3  

shivendra mishra 'आकाश'

Inspirational

pta nhi h

pta nhi h

5 mins
74


 था कि उसे बचाने वाला फरिश्ता कौन था ??उसने उस बचने वाले व्यक्ति के लिये अखबार और साक्षत्कार के माध्यम से धन्यवाद दिया।लोगो ने उसके इस अद्म्य साहस का साक्षत्कार किये। 


लेकिन वह अब अपनी नोकरी से रिटायर हो गई और अब आराम से भैसों का पालन कर अपने  की भी अपनी क्षमता के अनुसार सेवा कर रही हैं।

       


Rate this content
Log in

More hindi story from shivendra mishra 'आकाश'

Similar hindi story from Inspirational