Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!
Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!

सुनो ओ मेघ

सुनो ओ मेघ

1 min
249


सुनो ओ मेघ!

आओ बरसो पर

धो दो दिलों के मैल,

बाँध दो अजनबियों को,

अपनी चाँदी की डोरी से।


भीगा दो तन मन को यूँ,

की मन में कोई न बैर रहे,

कर दो मदमस्त सा यूँ की,

आज कोई न गैर रहे।


होने दो जो गिला सब को 

आज नहीं है फ़िक्र कोई,

दिल पसीज जाए यूँ की,

सबकी हमको फ़िक्र रहे।



Rate this content
Log in