Exclusive FREE session on RIG VEDA for you, Register now!
Exclusive FREE session on RIG VEDA for you, Register now!

SOUBHAGYABATI GIRI

Inspirational


4.0  

SOUBHAGYABATI GIRI

Inspirational


हमारे शिक्षक और हमारे जीबन

हमारे शिक्षक और हमारे जीबन

1 min 214 1 min 214

किन शब्दों में वर्णन करूंगी

कि हमारे जीवन मे शिक्षक के महत्त्व क्या हैै ? 

शिक्षक के बिना मान कहाँ, ज्ञान कहाँ,जीवन कहाँ ?

शिक्षक के बिना तो जीवन असंभव है।

शिक्षकों के बिना जीवन, जीवन ही नही है।


हमारे लिए शिक्षक भगवान के सूरत होते हैं

स्वयं ब्रह्मा,विष्णु और महेश्वर होते हैं

देश का सबसे महत्वपुर्ण्ण लोग होते हैं

सभी ज्ञान के भंडार होते हैं।

सारे देश का भविष्य उनके हाथ में है,

इनसानो मे इनसानियत् भरते हैं।


मातापिता तो सिर्फ जन्म देते है,

पर शिक्षक हमारे जीवन मे अहम भूमिका निभाते हैं,

हमे एक अच्छा आकार देते हैं

अज्ञान रुपी अन्धकार मिटाके ज्ञान की ज्योत जलाते हैं,

हमारा मार्गदर्शन करते हैं।


सत्य न्याय की राह पर चलना सिखाते हैं,

प्रगती के मार्ग पर हमे बढाते हैं,

भबिष्य को उज्ज्वल और सफल बनाते हैं,

आखिर हमको एक अच्छा इनसान बना देते हैं।


आओ,देश के उन निर्माताओं को,

मिलके दिल से करेगें सम्मान,

शिक्षकों को चरणों मे करेगें शतशत नमन।



Rate this content
Log in

More hindi poem from SOUBHAGYABATI GIRI

Similar hindi poem from Inspirational