Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!
Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!

Raja Sekhar CH V

Abstract

4  

Raja Sekhar CH V

Abstract

इज़्ज़त

इज़्ज़त

1 min
13


ख़ुद को इतनी इज़्ज़त दे देनी ही चाहिए,

के उस जगह कभी न जाएँ,

जहाँ आपकी हमारी क़दर न हो !!


ख़ुद को इतनी इज़्ज़त दे देनी ही चाहिए,

के उन लोगों से राब्ता न किया जाए,

जिनको एहतिराम की अहमियत भी पता न हो !!


क्योंकी मिलेगी सिर्फ़ मायूसी !!

इसलिए अपने क़ीमती लम्हों को किसी मुनासिब जगह पर,

किसी वाजिब काम में,

तह-ए-दिल से लगाए जाएँ ,

और नए काम्याबी से रूबरू किया जाए !!

और अपने इज़्ज़त में चारचाँद लगाए जाएँ !!

 


Rate this content
Log in

Similar hindi poem from Abstract