only action हिंदी में

Action Fantasy Thriller


4  

only action हिंदी में

Action Fantasy Thriller


शक्तिमान

शक्तिमान

4 mins 19 4 mins 19

शरुवात के दृश्य में हम देखते हैं कि एक हीरो जिसके पूरे शरीर मे जहर है वो मर रहा होता है

और उसे तभी कोई मरता है जिससे वो उड़ते हुए दूर गिरता है जिससे उसके पेट मे सरिया घुस जाता है।

फिर हम देखते है कोई राक्षस ये सपना देख रहा है। 

फिर हम सपने मे देखते है कि वो हीरो इस राक्षस को नहीं मारता बल्कि ये कहकर छोड़ देता है कि "जा जीवनदान दिया तुझे"।

और वहां एक छोटा बच्चा भी होता है।

वो राक्षस ये देखकर उठ जाता है और वो बहुत गुस्से में होता है। (ग्लानि में होता हैं क्योंकि उसे उस हीरो ने नहीं मारा था)

फिर हम देखते है। पृथ्वी का दृश्य

जहा शक्तिमान एक सोसिअल एक्टिविस्ट के कार्यालय में पहुचता है।

और कहता है क्या कर रहे हो आज यहां 

सभी खड़े हो जाते है ओर अपना सर झुका देते हैं 

फिर, 

थोड़ी देर शांति छाई रहती है फिर

शक्तिमान कहता है याद करो वो दिन जब जानवरो को इंसान के साथ लड़ाया जा रहा था जानवरो को जबरदस्ती शराबे पिलाई जा रही थी। 

तब तो तुम अपना काम कर रहे थे कोर्ट गए प्रदर्शन किया बड़े बड़े कैम्पइनिंग की सबको इस घटना के बारे में लोगो को जागरूक किया।

आज क्या हो गया तुम सब को।

फिर सामने से एक ओरत कहती है

"गए थे हम पिछले साल हमे बहुत मारा गया पुलिस भी कुछ नहींं कि उल्टा हम पर ही केस कर दिया तुम भी तो हमे बचाने नहींं आये थे शक्तिमान"।

तब शक्तिमान कहता है।

"वक्त के साथ किलविश ओर ज्यादा शक्तिशाली होते जा रहा है अब वो राक्षस नहीं भेजता है बल्कि तुम्हारे अंदर के पाप को जगा देता है अब वो बुराई तुम्हारे जरिये फैला रहा है जिससे पाप का साम्रज्य बढ़ते जा रहा है लेकिन इसका ये मतलब नहीं की तुम सब शांत बैठे रहो। उठो और अपने दायित्व का निर्वहन करो आज करोड़ो खरगोशो को धीरे धीरे मारा जाएगा ऊपरवाले के नाम पर उन असहाय पशुवों चीत्कार से उनके बिखरे हुए खून से आज धरती पर पाप फैल रहा है , जो शक्तिनाम को करना है वो शक्तिमान करेगा लेकिन तुमसब को जो करना है तुम वो करो दुःख इस बात का ज्यादा रहेगा कि उन करोड़ो पशुवों के दर्द पर आवाज उठाने वाले तुम लोग शान्त बैठे रह जावोगे जबकि तुम उनके लिए लड़ सकते थे।

ये शान्ति आनेवाले विनाश को जन्म देगी ऐसी शांति मत बनावो।

तभी वहां एक आदमी कहता है ।

ठीक है शक्तिमान हम जाते है हम आवाज उठाएंगे विरोध करेंगे ।

लेकिन इस समस्या का अंत तुम्हारे हाथ में है ।

ये जिस ऊपरवाले के नाम पर पशुवों इंसानो को मारते समय जरा सा भी नहीं सोचते उस ऊपरवाले किलविश का अंत कर दो शक्तिनाम अंत कर दो।

(दोस्तो यहां किलविश किसी नए विलेन को नहीं भेजता है पाप फैलाने के लिए बल्कि अब वो इंसानो का ही यूज़ करता है)

फिर सभी वहां से चले जाते हैं ओर सीन दूसरी जगह जाता है

हम देखते है कोई दूत किलविश जितना शक्तिशाली अंधरे को किलविश का प्रस्ताव सुना रहा होता है , वो कहता है

"अब तक यहां अंधेरे का साम्राज्य अस्थापित नहीं हुआ है जिसका एकमात्र कारण 'शक्तिनाम' है जब मैं यहां आया था तब यहां के लोगो ने इसे मेरे खिलाफ इस शक्तिनाम को खड़ा कर दिया तब से लेके अब तक अंधेरा कायम नहीं हो पाया है मेरी मदत करो यहां पुण्य अब तक जिंदा है इंसानो का नियत अभी भी जिंदा है।"

ये सब सुनकर वो अंधेरा बहुत गुस्सा कर रहा था।

वो कहता है उस दूत को तब से अब तक पृथ्वी पर अंधेरा कायम नहींं हुआ हा हा हा।  (दोस्तो ये दूसरे ग्रह का किलविश रहता है जिसने अपने आने के 30 से 40 साल में ही अंधेरे का साम्राज्य अस्थापित कर लिया था अब यहां इंसान इसके इसारे पर जीते है,और बहुत को इसने राक्षस भी बना दिया है)

हँसते हुए वो अपने सबसे विस्वास पात्र राक्षस को बुलाता है।

वो राक्षस आता है तब उससे वो अंधेरा कहता है 

"जावो उस शक्तिनाम का कटा हुआ सर मेरे इस दीवार के लिए लेके आवो"

वो राक्षस अंधेरा कायम रहे बोलता है और जाने लगता है तभी अंधेरा बोलता है 

"उस जहर वाले राक्षस को भी ले लेना बड़े बुजुर्गों का होना बहुत जरूरी है इस काम में"।।.

फिर हम देखते है वो राक्षस उसी सपने वाले राक्षस के पास आता है ओर कहता है कि एक काम आया है किसी शक्तिमान को मारकर उसका सर लाकर अंधेरे को देना है।

तब वो जहरीला राक्षस कहता है कि इसमें मेरा क्या काम तुम्हारी टीम तो इसमें माहिर है ।

तब बो राक्षस कहता है " नहीं नहीं नहीं ये कोई बागी नहीं है ये मध्य भी नहीं है ये शुरुवात है वो पृथ्वी के अंधेरे को शुरुवात से रोक कर रखा है।.ओर अब जाकर उन्होंने हमसे मदत मांगी है।शक्तिमान को हल्के में नहीं ले सकते.

तब जहरीला राक्षस पूरी ध्यान लगा कर कहता है " क्या कहा तुमने शुरुवात से ही अंधेरे को रोक कर रखा है शक्तिमान ने तो फिर इसका मतलब मैं एकबार फिर किसी इंसानियत वाले हीरो से लड़ूंगा ।.

फिर वो जहरीला राक्षस खड़ा हो जाता है ओर कहता है

"पुण्य को देखने का आशा तो मैंने छोड़ ही दिया था ऐसे किसी ग्रह पर, पर अब बड़ा मजा आएगा। ।।

फिर हम देखते हैं कि इनकी पूरी टीम एक स्पेसशिप पर बैठ कर जा रही होती है

और हम देखते हैं उनका स्पेसशिप पृथ्वी की तरफ बढ़ रहा था।

to be continue..


Rate this content
Log in

More hindi story from only action हिंदी में

Similar hindi story from Action