Click Here. Romance Combo up for Grabs to Read while it Rains!
Click Here. Romance Combo up for Grabs to Read while it Rains!

भावना बर्थवाल

Inspirational


3.9  

भावना बर्थवाल

Inspirational


हमारे शिक्षक हमारा जीवन

हमारे शिक्षक हमारा जीवन

2 mins 366 2 mins 366

गुरु ब्रह्मा गुरु विष्णु गुरु साक्षात् परमं ब्रह्मा।

तस्मै श्री गुरुवे नमः।

सच है जीवन का सार तो शिक्षक ही देेेतेे है तभी तो सब एक 

सफल जीवन जीने के काबिल बनते हैं।

आज के दौर में शिक्षा का स्तर दिन प्रतिदिन गिरता जा रहा है।

पर अगर हमें एक सही मार्ग दर्शन देेेन वाले  गुरु मिल जाए तो

हमारी जिंदगी एक सफल जीवन जीने के काबिल बन जाएगा।

शिक्षक जीवन का आधार है जो जीवन को एक ऐसा रूप देता है जिस में दिन प्रतिदिन ज्ञान रूपी निखार आता रहता है जीवन पर्यन्त।

आज लोगों को ना जाने क्या हो गया है, उनकी सोच और विचार विकास प्रकृति के खिलाफ है। अब दुनिया के लिए एक शिक्षक सिर्फ एक शिक्षक रह गया हैं।

 शिक्षक को प्राचीन काल से ही एक गुरु के रूप में देखा जाता है, किसी भी देश के भविष्य का विकास शिक्षकों के हाथ में होता है। हम जीवन में क्या बनते हैं यह भी शिक्षक पर निर्भर करता है। शिक्षक विश्लेषण के लिए छात्रों के दिमाग में डाटा और जानकारी भरते हैं। हमारे जीवन में शिक्षक का महत्व बहुत ज्यादा होता है। हम सब जानते हैं हमारी पहली शिक्षक हमारे मां बाप होते।

और हमारा पहला विद्यालय हमारा घर। मुझे याद है जब मैं एम ए कर रही थी तो कालेज में हमारे प्रोफेसर थे और है वो हमेशा विद्यार्थीयों के मदद के लिए हमेशा तैयार रहते थे और आज भी है। मुझे याद है एक बार मेरे बिष्ट सर आधे रास्ते से वापस आये थे हमारा काम कराने के लिए। हर हाल में वो विधार्थियों के लिए तैयार रहते थे। ऐसे शिक्षकों को कोटि-कोटि नमन है हम सब का। क्या लिखूं और क्या छोड़े।

इतना है लिखने को मेरी शब्दावली कम पड़ जायेगी बस इतना ही कि नमस्कार नमन करते हम बारम बार। किसी भी मोड़ पे मिल जाओ करे स्वागत सत्कार नहीं करेंगे हम शिक्षा का अपमान बढ़ते जाएंगे हम सत्य मेव जयते के साथ।


Rate this content
Log in

More hindi story from भावना बर्थवाल

Similar hindi story from Inspirational