Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
Will You Be My Friend Again ? – Inbox Love
Will You Be My Friend Again ? – Inbox Love
★★★★★

© Sujit Kumar

Inspirational Romance

1 Minutes   7.3K    17


Content Ranking

 

क्या फिर से तुम मेरे दोस्त बनोगे ??

दोस्त तो हम है ही,

नहीं फिर से वैसे ही जैसे हम थे लेकिन जैसे हम अभी नहीं है ।

फिर से उसी तरह सुबह को रोज नए ढंग से जगाते हुए  हर शाम की तेरी उदासी को बहलाते हुए ;

हर रात को थपकियों से सुलाते हुए ।

फिर वैसे ही सब …

कुछ अनमने अटपटे से बातों की ख़ामोशी मन में उमड़ते रहे ; उसके भी मेरे भी ।

फिर हाँ ठीक है – यस आई विल !

धीमे धीमे से कहना रोक नहीं पाया

” बन पाओगे .. फिर वैसे ही .. शायद नहीं “

ऐसा क्यों कहा ?

पता नहीं बस ऐसे !

मन ही मन गुनगुनाने का मन करने लगा “आँख से दूर ना हो दिल से उतर जायेगा ” 

inbox love romance sad conversation story

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..