Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!
Unlock solutions to your love life challenges, from choosing the right partner to navigating deception and loneliness, with the book "Lust Love & Liberation ". Click here to get your copy!

Praveen Gola

Abstract

3  

Praveen Gola

Abstract

बुलंद हौसले

बुलंद हौसले

1 min
35


क्या सचमुच स्वतंत्रता मिली भारत को ?

क्या हर भारतवासी आज स्वतंत्र है ?

सही अर्थ समझें गर हम स्वतंत्रता का ,

तो वो यही है , "जब अपने हौसले बुलंद हैं "

लुट तो आज भी रही है अस्मत बेटी की

,हो रहा है चोरी - छिपे दहेज का व्यापार ,

जाने नहीं दिया जाता स्त्री को चौखट से बाहर ,

और हम कहते हैं कि हम स्वतंत्र हैं अब मेरे यार

एक मजबूर लड़का भूख से जब लड़ता हुआ ,

बाल मजदूरी का ही एक विकल्प चुनता है ,

तब उसे परिवार की रक्षा का भार उठा कहकर ,

स्वतंत्रता का गला देखो कैसे घुटता है ?

नई तकनीक का उपयोग लिंग जाँच में किया जाता है ,

तभी तो कन्या भ्रूण हत्या का मामला रोज सामने आता है ,

स्वास्थ्य सेवायें ठीक से बुजुर्गों को मिलती नहीं ,

फिर कैसे स्वतंत्रता दिवस की उमंगें सबके दिल में रहीं ?

स्वतंत्रता दिवस का सही मतलब होता है #FreeIndia  
जब इस देश का हर नागरिक पूर्ण रुप से स्वतंत्र हो , 
जब प्रत्येक व्यक्ति अपनी स्वतंत्रता का सम्मान करे  , 
और जब हर व्यक्ति के हौसले बुलंद हों ||



Rate this content
Log in