Quotes New

Audio

Forum

Read

Contests


Write

Sign in
Wohoo!,
Dear user,
शायद उनका आखरी हो ये सितम ...
शायद उनका आखरी हो ये सितम ...
★★★★★

© Antima Singh

Drama

3 Minutes   1.8K    19


Content Ranking

राघव नॉनवेज खाने का बहुत शौकीन था पर उसकी पत्नी आशा एक शाकाहारी महिला थी पर राघव को इससे कोई फर्क नही पड़ता था वो तो हर हफ्ते आशा के सामने मुर्गा या मीट लाकर देता था चाहे आशा पूरा खाना बना चुकी होती तब भी वो कोई परवाह नही करता था उसे तो बस अपनी मर्ज़ी चलानी होती थी उसे अपनी पत्नी आशा की भावनाओं की कोई चिंता नही थी वो तो बस अपनी मर्ज़ी आशा पर थोपता था .

बेचारी आशा ना चाहते हुए भी अपने पति की हर इच्छा पूरी करती बेचारी करती भी क्या उसने कभी भी अपने पति की कोई भी बात को ना नही कहा वो राघव की हर बात को डर के मारे पूरा करती इसी वजह से राघव को भी अपनी पत्नी की इज़्ज़त और भावनाओं की कोई परवाह नही थी, वो सबके सामने अपनी पत्नी की बेज्जती कर देता था अब तो आशा ने इसे अपनी किस्मत मान कर जिंदगी से समझौता कर लिया था ।

ऐसा नही था कि राघव अपनी पत्नी को प्यार नही करता था वो तो उसे महगे से महंगे तोहफे लाकर देता, उसे पैसे की कोई कमी नही होने देता पर एक पत्नी को जो सम्मान अपने पति से मिलना चाहिए वो सम्मान कभी भी राघव ने अपनी पत्नी को नही दिया..

राघव को तो ये अहसास भी नही था कि वो अपनी पत्नी के दिल को कितना ठेस पहुंचता है ..इसमें सारी गलती राघव की भी नही कह सकते इसके लिए कहि ना कहि आशा भी जिम्मेदार है अगर आशा ने पहेले दिन ही राघव के ऐसे व्यवहार पर आपत्ति जताई होती तो शायद राघव अपनी पत्नी की भावनाओ को समझता , उसे तो आशा ने कभी ये अहसास ही नही कराया कि उसका ये व्यवाहर उसे बुरा लगता है....

दोस्तो पति पत्नी का रिश्ता आपसी समझ , प्रेम और एक दूसरे की भावनाओं को समझने का होता है इस रिश्ते में कोई छोटा बड़ा नही होता अगर आपको अपने पति की कोई बात सही नही लगती तो उन्हें खुलकर बताए कि आपको उनका ऐसा व्यवाहर बिल्कुल पसंद नही है , आप उनकी अर्धांगिनी है कोई उनकी गुलाम नही अपनी अहमियत अपने पति को बताइए अगर वो आपको इज़्ज़त नही देते तो उनको बताइए कि आप भी एक इंसान है आपको भी उनकी बातों का बुरा लगता है पति पत्नी दोनों एक रिश्ते के बराबर के स्तंभ है इसमें दोनो एक दूसरे की भावनाओ का ख्याल रखना चाहिए .....

हर पति की ये जिम्मेदारी है कि वो अपनी पत्नी को सम्मान दे , अगर कोई पति सबके सामने अपनी पत्नी का मज़ाक उड़ाता है या उसको उसके घरवालों के सामने बेज़्ज़त करता है तो ऐसा पति पढ़ा लिखा होने के वावजूद एक "अनपढ़ इंसान से भी गिरा हुआ है "

माना पति पत्नी के रिश्ते में नोकझोक होती ही रहती है लेकिन ये नोकझोक इतनी नही बढ़नी चाहिए कि एक पत्नी के आत्मसम्मान को ठेस पहुँचाये , अगर आप भी ऐसे ही व्यवहार से गुज़र रही है तो आज ही पहल कीजिये अपने पति को टोकिये की आपको उनका व्यवहार कितना दुख देता है , अगर आप उनकी बातों का विरोध नही करेगी तो वो कभी आपके दिल का हाल नही समझेंगे आपको ही अपने पति को ये अहसास कराना होगा कि आप उनकी पत्नी के साथ साथ एक इंसान भी है कोई कठपुतली नही की जिसे जब चाहे कुछ भी बोला जा सके ...

आज से शुरू कीजिए अपने रिश्ते में सम्मान की बात ...

अभी देर नही हुई रिश्तों को प्यार से सींचना आपका ही कर्तव्य है ..

पति -पत्नी रिश्ता सम्मान

Rate the content


Originality
Flow
Language
Cover design

Comments

Post

Some text some message..