Become a PUBLISHED AUTHOR at just 1999/- INR!! Limited Period Offer
Become a PUBLISHED AUTHOR at just 1999/- INR!! Limited Period Offer

आओ ईद मनाये हम।।

आओ ईद मनाये हम।।

2 mins
187


प्यार, मोहब्बत वाले रिश्ते, आओ मिलके निभाये हम

साथ में होली, दीवाली और आओ ईद मनाये हम।।


नफरत वाली राहें छोड़ो, प्यार मोहब्बत से सब जोड़ो

राह गुनाहों का जो भी हो, उससे अपना नाता तोड़ो

बैर भाव सब भूल छोड़ कर, सबको गले लगाये हम

साथ में होली, दीवाली और आओ ईद मनाये हम।।


आसमान में दिखा है चांद, दुआ करो कर खुदा को याद

पैगामें ईद मोहब्बत है, करना न किसी से वाद विवाद

अम्मी ने सेवइयां बनाई, आओ मिलकर खाये हम

साथ में होली, दीवाली और आओ ईद मनाये हम।।


खुदा से मांगो सबकी खैर, नहीं किसी को समझो गैर

नेकी कर दरिया में डाल, कर ले तू जन्नत की सैर

खुदा से अब बस एक दुआ, किसी को भी न सताये हम

साथ में होली, दीवाली और आओ ईद मनाये हम।।


कायनात में सब है खुदा के, पीर पैगम्बर सब है खुदा के

मोमिनों तुम बनों अहिंसक, पैगम्बर कह गये खुदा के

जख्म कभी ना किसी को देना, सब पर रहम बनायें हम

साथ में होली, दीवाली और आओ ईद मनाये हम।।


आंखों में है ख्वाब सुनहरे, हाथों पर मेंहदी के पहरे

इत्र की खुश्बू महक रही है, गाती है नदियां की लहरें

करें इबादत, दुआ साथ ही गीत खुशी के गायें हम

साथ में होली, दीवाली और आओ ईद मनाये हम।।


नेक बनेंगे एक बनेंगे, भेद नहीं हम प्यार करेंगे

याद करेंगे सारे मजहब, हम ऐसा व्यवहार करेंगे

ईद मुबारक इक दूजे के, बाहों में बंध जायें हम

साथ में होली, दीवाली और आओ ईद मनाये हम।।


'एहसास' ये है अल्लाह के सज़दे, हम खुद भी अल्लाह के बन्दे

वतनपरस्ती, प्रेम की बस्ती, अपने हैं ईमान के धन्धे

अदावत, रंजो गम शिकवे गिले, सब भूल जायें हम

साथ में होली, दीवाली और आओ ईद मनाये हम।।


Rate this content
Log in

Similar hindi poem from Inspirational