Vivek Singh

Drama


2  

Vivek Singh

Drama


मैं आज तक नहीं समझा।

मैं आज तक नहीं समझा।

1 min 3.1K 1 min 3.1K

अभी कल की ही बात है लगता है खाना बनाना उनका काम है यह उन्हें अच्छा लगता होगा ।हर दिन सुबह उठ कर बताना नहीं पड़ता था कि यह बनाओ यह खाना है सब बन जाता है रोज नए नए व्यजंनों की रेसिपी न जाने कहा से आ जाती है बस मशीन के तरह चलती मेरी मां

मेरी सुपर वीमेन है ये आज तक नहीं समझ पाता जब उस रात जोरों से बारिश में बुखार शरीर दर्द ने लगभग जान ले ही ली थी तब मां ने पट्टी से बुखार कम किया और डिब्बे से न जाने क्या क्या खोजा कुछ बनाया पिलाया सुबह आंखे खुली सब शांत खुशनुमा था तब समझ आया कि मेरे लिये वंडर वीमेन कौन है

मुझे नहीं समझ आया आज तक कि मेरी मां क्या नहीं हैं।


Rate this content
Log in

More hindi story from Vivek Singh

Similar hindi story from Drama